World is in Early Stages Of Covid-19 Third Wave, WHO Warns Amid Delta Variant Surge | डेल्टा वेरिएंट के बढ़ते मामलों के बीच WHO की चेतावनी, विश्व अब तीसरी लहर के शुरूआती चरण में

डिजिटल डेस्क, वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदार दास मोदी आज (गुरुवार) अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर हैं। पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर वाराणसी को 1500 करोड़ रुपये सौगत दी है। पीएम मोदी ने आईआईटी बीएचयू के एडीवी ग्राउंड के मंच से कई परियोजनाओं का शिलान्यास किया। बता दें कि पीएम मोदी के हाथों से भाजपा सियासी बिसात बिछाने की तैयारी कर रही है। पूरे सात महीने बाद पीएम मोदी यूपी दौरे पर हैं। उनके इस दौरे के साथ ही बीजेपी के पक्ष में माहौल बनाने की कवायद शुरू हो चुकी है। विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखे जा रहे पीएम मोदी के इस दौरे को लेकर राजनीतिक जानकारों का कहना है कि पीएम मोदी हर महीने यूपी के किसी न किसी जिले का दौरा करेंगे। 

PM MODI LIVE 

रूद्राक्ष कंवेंशन सेंटर में पीएम मोदी का संबोधन
पीएम मोदी ने कहा, आज काशी में सैकड़ों करोड़ की अनेक विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है और अब वाराणसी इंटरनेशनल कोऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर ‘रुद्राक्ष’ का उद्घाटन हुआ है। कोरोनाकाल में जब दुनिया ठहर सी गई, तब काशी संयमित तो हुई, अनुशासित भी हुई, लेकिन सृजन और विकास की धारा अविरल बहती रही। काशी के विकास के ये आयाम, ये ‘इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर- रुद्राक्ष’ आज इसी रचनात्मकता का, इसी गतिशीलता का परिणाम है।

पीएम मोदी ने कहा, आज के इस आयोजन में एक और व्यक्ति हैं, जिनका नाम लेना मैं भूल नहीं सकता। जापान के ही मेरे एक और मित्र- शिंजो आबे जी। मुझे याद है, शिंजों आबे जी जब प्रधानमंत्री के तौर पर काशी आए थे, तो रुद्राक्ष के आइडिया पर उनसे मेरी चर्चा हुई थी। चाहे strategic एरिया हो या economic एरिया, जापान आज भारत के सबसे विश्वसनीय दोस्तों में से एक है। हमारी दोस्ती को इस पूरे क्षेत्र की सबसे natural partnerships में से एक माना जाता है।

पीएम मोदी ने कहा, भारत और जापान की सोच है कि हमारा विकास हमारे उल्लास के साथ जुड़ा होना चाहिए। ये विकास सर्वमुखी होना चाहिए, सबके लिए होना चाहिए, और सबको जोड़ने वाला होना चाहिए। बनारस के तो रोम रोम से गीत संगीत और कला झरती है। यहां गंगा के घाटों पर कितनी ही कलाएं विकसित हुई हैं, ज्ञान शिखर तक पहुंचा है और मानवता से जुड़े कितने गंभीर चिंतन हुये हैं। इसीलिए, बनारस गीत-संगीत का, धर्म-आध्यात्म का और ज्ञान-विज्ञान का एक बहुत बड़ा ग्लोबल सेंटर बन सकता है। पिछले 6-7 वर्षों में बनारस के हैंडीक्राफ्ट और शिल्प को मजबूत करने की दिशा में काफी काम हुआ है। इससे बनारसी सिल्क और बनारसी शिल्प को फिर से नई पहचान मिल रही है।

पीएम मोदी ने किया रूद्राक्ष कंवेशन सेंटर का उद्घाटन। उद्घाटन से पहले परिसर में किया वृक्षारोपण। जापानी और भारतीय वास्तु कला का नायाब नमूना है अत्याधुनिक रूद्राक्ष कंवेंशन सेंटर

Whats-App-Image-2021-07-15-at-12-38-01

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, आज काशी के विकास से जुड़ी 1,500 करोड़ से अधिक की परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करने का अवसर मुझे मिला है। बनारस के विकास के लिए जो कुछ हो रहा है, वो महादेव के आशीर्वाद और बनारस की जनता के प्रयास से ही जारी है। पीएम मोदी ने कहा, बीते कुछ महीने हम सभी के लिए बहुत मुश्किल भरे रहे हैं। कोरोना वायरस के बदले हुए और खतरनाक रूप ने पूरी ताकत के साथ हमला किया था। लेकिन काशी सहित, यूपी ने पूरे सामर्थ्य के साथ इतने बड़े संकट का मुकाबला किया। 

पीएम मोदी ने कहा, देश का सबसे बड़ा प्रदेश जिसकी आबादी दुनिया के दर्जनों बड़े-बड़े देशों से भी ज्यादा हो, वहां कोरोना की दूसरी लहर को जिस तरह यूपी ने संभाला, कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका वो अभूतपूर्व है। मैं काशी के अपने साथियों का, यहां शासन-प्रशासन से लेकर कोरोना योद्धाओं की संपूर्ण टीम का विशेष रूप से आभारी हूं। आपने दिन-रात जुटकर जिस प्रकार काशी में व्यवस्थाएं खड़ी कीं, वो बहुत बड़ी सेवा है। आज उत्तर प्रदेश पूरे देश में कोरोना की सबसे ज्यादा टेस्टिंग करने वाला राज्य है। आज उत्तर प्रदेश पूरे देश में सबसे ज्यादा वैक्सीनेशन करने वाला राज्य है।

पीएम मोदी ने कहा, आज यूपी में गांव के स्वास्थ केंद्र हो, मेडिकल कॉलेज हो, एम्स हो मेडिकल इंफ्रास्ट्रेक्चर में अभूतपूर्व सुधार हो रहा है। 4 साल पहले तक जहां यूपी में दर्जन भर मेडिकल कॉलेज हुआ करते थे, उनकी संख्या अब करीब-करीब 4 गुना हो चुकी है।काशी नगरी आज पूर्वांचल का बहुत बड़ा मेडिकल हब बन रही है। जिन बीमारियों के इलाज के लिए कभी दिल्ली और मुंबई जाना पड़ता था, उनका इलाज आज काशी में भी उपलब्ध है। अभी यूपी में करीब 550 ऑक्सीजन प्लांट्स बनाने का काम तेजी से चल रहा है। आज बनारस में 14 ऑक्सीजन प्लांट्स यहां लोकार्पण भी किया गया है।

पीएम मोदी ने कहा, काशी के मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर में आज कुछ और कड़ियां जुड़ रही हैं। आज महिलाओं और बच्चों की चिकित्सा से जुड़े नए अस्पताल काशी को मिल रहे हैं। इसमें से 100 बेड की क्षमता बीएचयू में और 50 बेड जिला अस्पताल में जुड़ रहे हैं। शहर में जगह-जगह लग रही बड़ी-बड़ी LED स्क्रीन्स और घाटों पर लग रहे टेक्नॉलॉजी से लैस इन्फॉर्मेशन बोर्ड, ये काशी आने वालों की बहुत मदद करेंगे। काशी के इतिहास, वास्तु, शिल्प, कला, ऐसी हर जानकारी को आकर्षक तरीके से प्रस्तुत करने वाली ये सुविधाएं श्रद्धालुओं के काफी काम आएंगी।बड़ी स्क्रीन्स के माध्यम से गंगा जी के घाट पर और काशी विश्वनाथ मंदिर में होने वाली आरती का प्रसारण पूरे शहर में संभव हो पाएगा।

पीएम मोदी ने कहा, उत्तर प्रदेश, देश के अग्रणी इन्वेस्टमेंट डेस्टिनेशन के रूप में उभर रहा है। कुछ साल पहले तक जिस यूपी में व्यापार-कारोबार करना मुश्किल माना जाता था, आज मेक इन इंडिया के लिए यूपी पसंदीदा जगह बन रहा है। देश में आधुनिक कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए जो 1 लाख करोड़ रुपए का विशेष फंड बनाया गया है, उसका लाभ अब हमारी कृषि मंडियों को भी मिलेगा। ये देश की कृषि मंडियों के तंत्र को आधुनिक और सुविधा संपन्न बनाने की तरफ एक बड़ा कदम है।

पीएम मोदी ने कहा, काशी और पूरे यूपी के विकास के इतने सारे कामों की चर्चा मैं इतनी देर से कर रहा हूँ, लेकिन ये लिस्ट इतनी लंबी है कि इतनी जल्दी खत्म नहीं होगी। जब समय का अभाव होता है तो कई बार सोचना पड़ता है कि यूपी के कौन से विकास कार्यों की चर्चा करूं, कौन से कार्यों को छोडू़ं। ऐसा नहीं है कि 2017 से पहले यूपी के लिए योजनाएं नहीं आती थीं, पैसा नहीं भेजा जाता था! तब भी दिल्ली से इतने ही तेज प्रयास होते थे। लेकिन तब लखनऊ में उनमें रोड़ा लग जाता था। आज योगी जी खुद कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा, आज यूपी में कानून का राज है। माफियाराज और आतंकवाद, जो कभी बेकाबू हो रहे थे, उन पर अब कानून का शिकंजा है। बहनों-बेटियों की सुरक्षा को लेकर माँ-बाप हमेशा जिस तरह डर और आशंकाओं में जीते थे, वो स्थिति भी बदली है। यूपी में सरकार आज भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद से नहीं विकासवाद से चल रही है। इसीलिए, आज यूपी में जनता की योजनाओं का लाभ सीधा जनता को मिल रहा है। इसीलिए, आज यूपी में नए-नए उद्योगों का निवेश हो रहा है, रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं।

काशी को दुनिया के सामने पीए मोदी ने नई पहचान दिलाई – योगी

वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचे पीएम मोदी, स्वागत करने पहुंचे सीएम योगी और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

PM मोदी का मिनट टू मिनट कार्यक्रम

  • 10.25 बजे  बाबतपुर एयरपोर्ट पर पीएम का आगमन 
  • 10.35 बजे  बाबतपुर एयरपोर्ट से बीएचयू के लिए उड़ान
  • 10.55 बजे  बीएचयू हेलीपैड पर आगमन 
  • 11.05 बजे  आईआईटी बीएचयू के एडीवी ग्राउंड के मंच पर आगमन 
  • 12.20 बजे  एडीवी ग्राउंड से बीएचयू एमसीएच विंग के लिए प्रस्थान
  • 12.30 बजे  एमसीएच विंग, क्षेत्रीय नेत्र संस्थान का उदघाटन और निरीक्षण, संवाद
  • 01.35 बजे  बीएचयू एमसीएच विंग से बीएचयू हेलीपैड पर आगमन
  • 01.45 बजे  बीएचयू हेलीपैड से संस्कृत विवि हेलीपैड के लिए उड़ान
  • 01.55 बजे  संस्कृत विवि हेलीपैड पर आगमन और रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के लिए प्रस्थान।
  • 02.10 बजे  रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर पर पीएम का आगमन 

लोकार्पण होने वाली मुख्य परियोजनाएं

  • रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटरः 186 करोड़ रुपये
  • मल्टीलेबल पार्किंगः19.55 करोड़ रुपये
  • पुरानी सीवर लाइन का सीआइपीपी लाइनिंग जीर्णोद्धारः 21.09 करोड़ रुपये
  • सीवर जीर्णोद्धार कार्यः 8.12 करोड़ रुपये
  • चार पार्कों का सौंदर्यीकरणः 4.45 करोड़ रुपये
  • बीएचयू में 100 बेड एमसीएच विंगः 45.50 करोड़ रुपये
  • दीनदयाल अस्पताल पांडेयपुर में 50 बेड महिला अस्‍पतालः 17.39 करोड़ रुपये
  • बीएचयू में रीजनल इंस्टीट्यूट आप्‍थैल्मोलाजीः 29.63 करोड़ रुपये
  • श्री लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सालय रामनगर आवासः11.97 करोड़ रुपये
  • गंगा नदी में पर्यटन विकास के लिए दो रो पैक्‍स का संचालनः 22 करोड़ रुपये
  • राजघाट से अस्सी तक जलयान का संचालनः 10.72 करोड़ रुपये
  • 84 घाटों पर सूचना पट्ट का स्थापन कार्यः 5.08 करोड़ रुपये
  • रामेश्वर में विश्राम स्थलः 8 करोड़ रुपये
  • पंचकोस परिक्रमा मार्ग 33.91 किमी. व चौड़ीकरणः 62.04 करोड़ रुपये
  • वाराणसी-गाजीपुर मार्ग थ्री लेन उपरिगामी सेतुः 50.17 करोड़ रुपये
  • श्यामा प्रसाद रूर्बन मिशन अंतर्गत दो पेयजल परियोजनाः 7.72 करोड़ रुपये
  • विश्व बैंक सहायतित नीर निर्मल परियोजना-दो अंतर्गत 11 पेयजल परियोजनाः 61 करोड़ रुपये
  • 14 अस्पतालों तथा स्वास्थ्य केंद्रों में पीएसए आक्सीजन जनरेशनः 11 करोड़ रुपये
  • बीएचयू में 80 टीचर रेजिडेंशियल फ्लैटः 46.71 करोड़ रुपये
  • मछोदरी स्मार्ट सीनियर सेकेंडरी स्कूल व स्किल डेवलपमेंट सेंटरः 14.21 करोड़ रुपये
  • चार स्कूल एवं कालेज में तीन महिला छात्रवास, क्लास व लैबः 5.79 करोड़ रुपये

शिलान्यास होने वाली मुख्य परियोजनाएं

  • केंद्रीय पेट्रोकेमिकल्स इंजीनियरिंग एवं टेक्नीकल इंस्टीट्यूट (सिपेट) का स्किलिंग एंड टेक्निकल सपोर्ट सेंटर (सीएसटीसी) महगांव मेंः 48.14 करोड़ रुपये
  • आईटीआई महगांवः 14.16 करोड़ रुपये
  • राजघाट प्राथमिक विद्यालय आदमपुर जोनः 2.77 करोड़ रुपये
  • सिस वरुणा में वाटर सप्लाई परियोजनाः 108.53 करोड़ रुपये
  • सिस वरुणा में पेयजल संचालन पर कार्यः 7.41 करोड़ रुपये
  • कोनिया घाट क्षेत्र में सीवर लाइन बिछाना से जुड़ी परियोजनाः 15.03 करोड़ रुपये
  • नगर के घाट पर पंपिंग स्टेशन, सीवेज पंपिंगः 9.64 करोड़ रुपये
  • कोनिया पंपिंग स्टेशन पर 0.8 मेगावाट क्षमता का सोलर पावर प्लांटः 5.89 करोड़ रुपये
  • मुकीमगंज व मछोदरी क्षेत्र में सीवर लाइन परियोजनाः 2.83 करोड़ रुपये
  • लहरतारा चौकाघाट फ्लाईओवर के नीचे अरबन प्लेस मेकिंगः 8.50 करोड़ रुपये
  • करखियांव औद्योगिक क्षेत्र में मैंगो एवं वेजिटेबल इंटीग्रेटेड पैक हाउस का निर्माणः 15.78 करोड़ रुपये
  • पुलिस लाइन में ट्रांजिट हास्टल, आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन सेक्टर इकाई का कार्यालय भवनः 26.70 करोड़ रुपये
  • रायफल एवं पिस्टल शूटिंग रेंज का निर्माणः 5.04 करोड़ रुपये
  • 47 ग्रामीण संपर्क मार्ग कुल लंबाई 152 किलोमीटर का निर्माण, चौड़ीकरणः 111.26 करोड़ रुपये
  • जल जीवन मिशन कार्यक्रम के अंतर्गत हर घर नल योजनाः 428.54 करोड़ रुपये
  • ट्रांस वरुणा में वाटर सप्लाई परियोजनाः 19.49 करोड़ रुपये
  • वाटर ट्रीटमेंट प्लांट भेलूपुर सोलर पावरः 17.24 करोड़ रुपये

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,913FansLike
2,883FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles