West Bengal Election 2021: ‘खेला होबे’ से ‘लाल फेराओ-हाल फेराओ’ तक, बंगाल चुनावों में जिंगल्स ने बनाई खास जगह

कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Election 2021:) में राजनीतिक दलों ने विरोधी दल को जवाब देने के लिए कई तरह के स्लोगन्स तैयार किये हैं. तृणमूल कांग्रेस (TMC), बीजेपी (BJP), कांग्रेस, सीपीएम सभी ने अपने-अपने कार्यकर्ताओं में जोश भरने और विरोधी दल को जवाब देने के लिए ऐसे नारे बनाये है जिनमें राजनीतिक महत्वाकांक्षाएं और जवाब दोनों छिपे हुए हैं. बंगाल में इसकी शुरुआत टीएमसी ने की. टीएमसी के 25 वर्षीय नेता देबांगशु भट्टाचार्य ने पार्टी की ओर से ‘खेला होबे’ का नारा दिया.

चुनाव में भाजपा ने ‘खेलर माथे लोराई होबे (खेल के मैदान पर लड़ाई लड़ी जाएगी)’ और ‘पिसी जाओ (आंटी जाओ)’ और सीपीआई (एम) का ‘टम्पा, तोके नीये ब्रिगेड जाबो (टुम्पा, मैं तुमको ब्रिगेड तक ले जाऊंगा)’ और ‘लाल फेराओ, हाल फेराओ (लाल वापस लाओ, स्थिरता वापस लाओ.)’ सरीख स्लोगन्स दिये हैं.

‘खेला होबे’ में हाथरस तक का जिक्र
अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार खेला होबे के लिरिक्स में राज्य सरकार की कई योजनाओं- जैसे कन्याश्री, (छात्राओं को पैसे देने वाली योजना), स्वास्थ्य साथी का भी जिक्र है. इसके साथ ही यह बीजेपी को भी चुनौती देती है. इस लिरिक्स में बीजेपी द्वारा ‘टीएमसी के नेताओं को तोड़ना’, महंगाई, संप्रदायिकता और हाथरस की घटना का भी जिक्र है.लिरिक्स में एक जगह कहा गया है- ‘आप राम के नाम पर देश को तोड़कर रहे हैं … लेकिन जानते हैं कि राम दुर्गा की पूजा करते हैं.’ भट्टाचार्य के अनुसार खेला होबे की प्रेरणा रबींद्रनाथ टैगोर के गीत ‘मोदेर जेमोन खेला, तेमोनी जे काज (हम काम उसी तरह करते हैं, जैसे काम करते हैं.’)

‘खेला होबे’ TMC का- ‘जय श्री राम’- भट्टाचार्य
भट्टाचार्य ने कहा ‘बंगाल की धरती जय श्री राम’ के नारे से नहीं पहचानी जाती है इसलिए, मुझे लगा कि तृणमूल को अपने  ‘जय श्री राम ’की जरूरत है. इसके अलावा, सुवेंदु अधिकारी (दिसंबर में भाजपा में शामिल होने वाले पूर्व टीएमसी मंत्री) के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने की जरूरत थी. इस नारे ने अधकारी के उद्देश्य को हरा दिया है. यहां तक कि प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) भी नारे का जवाब दे रहे हैं.’

7 मार्च को ब्रिगेड परेड ग्राउंड में एक रैली के दौरान, मोदी ने कहा था ‘खेला खतम, विकस शुरु.’ सीपीआई (एम) अपने ‘युवा, प्रतिभाशाली पार्टी कार्यकर्ताओं’ अपने स्लोगन का श्रेय देती है.  पहला गीत लोकप्रिय बंगाली गीत, ‘तुम्पा शोना’ की पैरोडी है, जबकि दूसरा बॉलीवुड ट्रैक  ‘लुंगी डांस’ पर बेस्ड है.

इस बीच कांग्रेस को अभी चुनाव आयोग से अनुमति का इंतजार है. पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सोशल मीडिया प्रभारी अभिषेक बैनर्जी ने कहा कि ‘मैंने एक पोल जिंगल लिखा है जिसे स्वीकृति के लिए चुनाव आयोग को भेजा गया है.  जैसे ही हमें परमिशन मिलेगी, हमारी पार्टी इसे आधिकारिक रूप से जारी कर देगी.

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles