Coronavirus in India LIVE: कोरोना संकट पर PM मोदी की मीटिंग जारी, लिए जा सकते हैं बड़े फैसले

Andhra Pradesh Corona Case: राज्य के प्रधान सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने बताया कि टीके की कमी के कारण एक मई से आंध्र प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू नहीं हो सकेगा.

Andhra Pradesh Corona Case: राज्य के प्रधान सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने बताया कि टीके की कमी के कारण एक मई से आंध्र प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू नहीं हो सकेगा.

अमरावती (आंध्र प्रदेश). आंध्र प्रदेश में गत 24 घंटे में कोविड-19 के 17,354 नए मामले आए जो एक दिन में सर्वाधिक है. राज्य सरकार ने बताया कि इसके साथ ही राज्य में अब तक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 11,01,690 हो गई है. सरकार के मुताबिक गत 24 घंटे में 64 और मरीजों की मौत से अबतक प्रदेश में कुल 7,992 मरीजों की जान जा चुकी है. राज्य के प्रधान सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने बताया कि टीके की कमी के कारण एक मई से आंध्र प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू नहीं हो सकेगा.  उन्होंने कहा कि राज्य को इस आयुवर्ग के दो करोड़ लोगों का टीकाकरण करने के लिए चार करोड़ खुराक की जरूरत है. एक आधिकारिक बुलेटिन के मुताबिक राज्य में 1,22,980 उपचाराधीन मरीज हैं. एक दिन में आए 3.86 लाख से अधिक मामले बीते 24 घंटों में कोरोना ने एक बार फिर से रिकॉर्ड तोड़ दिया है. देश में बीते एक दिन में कोरोना के 3.86 लाख से अधिक कोरोना केस सामने आए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3,86,452 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 3498 मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है.कोरोना के कारण वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना की मौत वरिष्ठ टीवी पत्रकार रोहित सरदाना की मौत हो गई है. वह कोरोना से संक्रमित थे. वह फिलहाल देश के एक नामी न्यूज चैनल में एंकर के तौर पर काम कर रहे थे. इसको लेकर टीवी पत्रकार सुधीर चौधरी ने ट्वीट किया, ‘अब से थोड़ी पहले जितेंद्र शर्मा का फोन आया. उसने जो कहा सुनकर मेरे हाथ कांपने लगे. हमारे मित्र और सहयोगी रोहित सरदाना की मृत्यु की ख़बर थी. ये वायरस हमारे इतने क़रीब से किसी को उठा ले जाएगा ये कल्पना नहीं की थी. इसके लिए मैं तैयार नहीं था. यह भगवान की नाइंसाफ़ी है…. ॐ शान्ति.’

आइसीएमआर के अनुसार के अनुसार, 28 अप्रैल तक देश में 28,63,92,086 नमूनों की कोरोना जांच की जा चुकी है.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,913FansLike
2,756FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles