Britain: Prince Philip II’s husband Prince Philip dies, wave of mourning all over Britain | ब्रिटेन: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का निधन, पूरे ब्रिटेन में शोक की लहर 


डिजिटल डेस्क, लंदन। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का शुक्रवार को बकिंघम पैलेस में निधन हो गया। वह 99 वर्ष के थे। लंदन स्थित बकिंघम पैलेस ने यह जानकारी दी। प्रिंस फिलिप को ड्यूक आफ एडिनबर्ग भी कहा जाता था। उनका और महारानी एलिजाबेथ का करीब 73 साल का साथ रहा। प्रिंस के निधन के साथ ही ब्रिटेन में शोक छा गया।

ब्रिटेन की ऐतिहासिक इमारतों में उनके सम्मान में राष्ट्र ध्वज झुका दिए गए और राष्ट्रव्यापी शोक की घोषणा कर दी गई है। बकिंघम पैलेस ने बयान जारी कर कहा कि बहुत दुख के साथ महारानी ने अपने पति, हिज रॉयल हाईनेस द प्रिंस फिलिप, ड्यूक ऑफ एडिनबरा के निधन की घोषणा की है। प्रिंस फिलिप ने विंडसर कैसेल में शुक्रवार सुबह अंतिम सांस ली।’ वह हाल ही में अस्पताल में थे। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने प्रिंस फिलिप के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने अनगिनत युवाओं के जीवन को प्रेरित किया है। 

बीती 16 मार्च को मिली थी अस्पताल से छुट्टी
ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप कोरोना संक्रमित हो गए थे। प्रिंस फिलिप (99) को 16 फरवरी को लंदन के निजी किंग एडवर्ड सप्तम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में उन्हें सेंट बार्थोलोमेव के हृदय रोग के विशेष अस्पताल ले जाया गया। फिर वहां से वापस उन्हें किंग एडवर्ड अस्पताल लाया गया था। इलाज के बाद 16 मार्च को लंदन के अस्पताल से उन्हें छुट्टी मिल गई थी। उनका संक्रमण और हृदय संबंधी रोग का इलाज चल रहा था।

कोरफू आइलैंड में हुआ था जन्म
प्रिंस फिलिप का जन्म ग्रीस के कोरफू आइलैंड में 10 जून 1921 को हुआ था। उन्होंने ब्रिटेन की राजशाही को आधुनिक रूप देने में अहम भूमिका निभाई थी। दिवंगत प्रिंस सार्वजनिक रूप से बहुत कम दिखाई देते थे। वह ग्रीक व डैनिश राजपरिवार के सदस्य थे।

भारत के अंतिम वायसराय माउंटबेटन के भतीजे थे प्रिंस
प्रिंस फिलिप भारत के अंतिम वायसराय लॉर्ड लुईस माउंटबेटन के भतीजे थे। वह ब्रिटेन में रहते हुए और 1939 में रॉयल नेवी में शामिल हुए। उन्होंने 1947 में राजकुमारी एलिजाबेथ से शादी की थी। शादी के पांच साल बाद एलिजाबेथ महारानी बनीं। दंपति के चार बच्चे, आठ पोते और 10 परपोते हैं।

ग्रीस से निर्वासित हुए, फ्रांस, जर्मनी के बाद ब्रिटेन आए
प्रिंस अपने गृह देश से परिवार सहित निर्वासित हो गए थे। ग्रीस छोड़ने के बाद वे फ्रांस, जर्मनी व ब्रिटेन आए। उन्होंने ब्रिटेन में शिक्षा पाने के बाद लंबे समय तक ब्रिटिश नौसेना में सेवाएं दीं। 

 

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,913FansLike
2,759FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles