BJP चुनाव प्रचार में नहीं लेगी किसी सेलेब्रिटी और फिल्म का स्टार सहारा Rajasthan News- Jaipur News- Rajasthan Assembly by-election- BJP will not take any support of celebrity and film star in election campaign

पूनिया का कहना है कि पार्टी का कार्यकर्ता ही चुनाव प्रचार की कमान संभालेगा. उसी के दम पर हम चुनाव जीतेंगे.

Battle for Rajasthan assembly by-election: बीजेपी इस बार अपने कार्यकर्ताओं के दम पर चुनाव मैदान में है. बीजेपी (BJP) इस बार चुनाव प्रचार के लिये किसी सेलिब्रिटी या फिल्म स्टार (Celebrity and Film Star) को नहीं बुलायेगी.

जयपुर. राजस्थान विधानसभा उपचुनाव (Rajasthan Assembly by-election) का रण जीतने में जुटी बीजेपी (BJP) इस बार न तो किसी सेलेब्रिटी से प्रचार करायेगी और न ही किसी स्टार (Celebrity and Film Star) को बुलायेगी. पार्टी के नेता और कार्यकर्ता ही चुनाव प्रचार (Election Campaign) की बागडोर संभालेंगे. प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा है कि पार्टी कार्यकर्ताओं के दम पर ही चुनाव लड़ रही है.

राजसमंद, सहाड़ा और सुजानगढ में सितारों के बगैर ही बीजेपी का चुनाव प्रचार जोर पकड़ेगा. बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने मंगलवार को जयपुर में कहा कि डिमांड तो बहुत है लेकिन राजस्थान आने के लिए सितारों के पास वक्त भी नहीं है और न ही उन्हें बुलवाने में पार्टी की कोई दिलचस्पी है. पार्टी का कार्यकर्ता ही चुनाव प्रचार की कमान संभालेगा. उसी के दम पर हम चुनाव जीतेंगे.

इन फिल्मी सितारों की है डिमांड
बीजेपी के कार्यकर्ता फिल्म स्टार एवं अपनी पार्टी की नेता हेमा मालिनी और प्रीति जिंटा से लेकर सनी देओल तक की चुनाव प्रचार में मांग कर रहे हैं. लेकिन पार्टी इस बारे में फिलहाल ज्यादा नहीं सोच रही है. तीनों ही सीटों पर कांग्रेस की रणनीति पर भी पूनिया ने कटाक्ष करते हुये कहा कि उसने बीजेपी का गणित बिगाड़ने के लिए कई वोट कटुवा उम्मीदवार खड़े किये हैं. लेकिन मतदाता इसकी सच्चाई जानता है. कांग्रेस चाहे कितना ही सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करे. चाहे कितने ही प्रलोभन दे लेकिन जनता कांग्रेस के बहकावे में नहीं आयेगी और जीत बीजेपी की ही होगी.बीजेपी नेताओं के चेहरे पर दिखाई दे रहा है जोश

बीजेपी स्थापना दिवस के मौके पर पार्टी कार्यालय में आयोजित हुए कार्यक्रम में बीजेपी नेताओं के चेहरे पर जोश नजर आया. लेकिन सवाल उठता है कि क्या ये जोश और उत्साह बीजेपी की चुनावी वैतरणी पार लगा पायेगा. फिलहाल तो पार्टी कांटे के मुकाबले में फंसी है और उसके नेताओं के आपसी मनमुटाव से भीतरघात का खतरा बरकरार है.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles