45 से कम उम्र के लोगों को टीका! दिल्ली के अस्पताल में फर्जीवाड़े पर केंद्र का आप सरकार को पत्र

मंत्रालय ने अपने पत्र में कहा है कि नेहरू नगर क्षेत्र स्थित VIMHANS में टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया में गंभीर लापरवाही बरती गई है. फाइल फोटो

Private COVID Vaccination Centres: VIMHANS 45 साल से कम उम्र के लोगों का स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन कर्मचारी के रूप में रजिस्ट्रेशन कर रहा है और अनियमितता बरतते हुए वैक्सीन का टीका लगा रहा है.

नई दिल्ली. दिल्ली के कुछ प्राइवेट अस्पतालों में 45 वर्ष से नीचे की उम्र के लोगों को कोरोना टीका (Coronavirus Vaccination) लगाने का मामला सामने आया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने दिल्ली सरकार के प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) को इस बारे में पत्र लिखकर संज्ञान लेने को कहा है. मंत्रालय ने कहा है कि कुछ प्राइवेट अस्पतालों में बने टीकाकरण केंद्र में अनियमितता बरतते हुए गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा है और शासनादेश के खिलाफ 45 साल से कम उम्र के लोगों को वैक्सीन दी जा रही है. मंत्रालय ने अपने पत्र में कहा है कि नेहरू नगर क्षेत्र स्थित विद्यासागर इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ, न्यूरो एंड एलायड साइंसेसज (VIMHANS) में टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया में गंभीर लापरवाही बरती गई है. ये इंस्टीट्यूट निजी टीकाकरण केंद्र के रूप में संचालित हो रहा है. केंद्र सरकार ने कहा है कि VIMHANS 45 साल से कम उम्र के लोगों का स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन कर्मचारी के रूप में रजिस्ट्रेशन कर रहा है और अनियमितता बरतते हुए वैक्सीन का टीका लगा रहा है.

दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने सोमवार को कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस की चौथी लहर चल रही है और जांच क्षमता बढ़ा दी गयी है. संक्रमण के दो या इससे ज्यादा मामले आने पर छोटे-छोटे निषिद्ध क्षेत्र भी तैयार किए जा रहे हैं. दिल्ली में रविवार को संक्रमण के 4033 मामले आने से संक्रमितों की संख्या 6.76 लाख से ज्यादा हो गयी. स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक 21 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 11,081 हो गयी.

जैन ने सोमवार को कहा कि दिल्ली में महामारी की चौथी लहर चल रही है और सरकार संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठा रही है. उन्होंने कहा, ‘‘संक्रमण दर 4.64 प्रतिशत हो गयी है. औचक जांच भी की जा रही है और जांच की क्षमता भी बढ़ायी गयी है. एक दिन में 80,000 से ज्यादा नमूनों की जांच की गयी जो कि राष्ट्रीय औसत से पांच गुणा ज्यादा है.’’ कोविड-19 संक्रमण से उबर चुके जैन ने ठीक हो चुके लोगों से प्लाज्मा दान करने की भी अपील की.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं दिल्ली के सभी नागरिकों से कोविड-19 के संबंध में उचित व्यवहार अपनाने और किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतने की अपील करता हूं. मुझे लगता है कि संक्रमण को रोकने के लिए आवश्यक सावधानी बरतना बहुत जरूरी है.’’ कोविड-19 के मामलों और मौत की संख्या में हो रही वृद्धि के बारे में पूछे जाने पर जैन ने कहा, ‘‘पूर्व की लहर की तुलना में इस बार उतनी गंभीर स्थिति नहीं है.’’





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles