ऑक्सीजन की उपलब्धता के मामले में भारत ‘बहुत अच्छी स्थिति’ में: स्वास्थ्य मंत्रालय

0
3
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 4 दिन बाद ऐसा हुआ है कि 24 घंटे में सामने आये कोविड-19 के मामले 50,000 से कम हैं.

नई दिल्ली. स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health & Family Welfare) ने मंगलवार को कहा कि देश में पिछले 10 महीने में ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी नहीं रही और सितंबर तक दैनिक उत्पादन क्षमता बढ़कर 6,862 मीट्रिक टन हो गयी है जिसके अक्टूबर के अंत तक 7,191 टन हो जाने का अनुमान है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण (Health Secretary Rajesh Bhushan) ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि केंद्र सरकार (Central Government) ने पहले चरण में 18 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 246 ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र लगाने की प्रक्रिया शुरू की है जिनमें से 67 पूर्ण होने के विभिन्न स्तर पर हैं. उन्होंने बताया कि दूसरे चरण में 30 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में ऐसे 150 संयंत्र और लगाये जाएंगे.

भूषण ने कहा कि ऑक्सीजन की उपलब्धता के मामले में भारत काफी अच्छी स्थिति में है. उन्होंने कहा, “पिछले 10 महीने में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं रही. इस समय भी कोई कमी नहीं है. हम काफी अच्छी स्थिति में हैं.” भूषण ने बताया कि आईसीयू, वेंटिलेटर और ऑक्सीजन सुविधा वाले बिस्तरों पर मरीजों की संख्या एक सितंबर को 43,022 थी जो उस महीने के तीसरे सप्ताह में बढ़कर 75,000 हो गयी. इसके बाद यह संख्या कम होने लगी और मंगलवार को यह 57,000 से अधिक थी.

ये भी पढ़ें: PM मोदी ने कबीर के दोहे और रामचरित मानस की चौपाई से दिया कोरोना से लड़ने का मंत्र, पढ़ें 5 खास बातें

स्वास्थ्य सचिव ने कहा, ‘‘गिरावट आई है, लेकिन एक सितंबर की तुलना में यह अब भी अधिक है. हालांकि यह चिंता की बात नहीं है क्योंकि हमारी क्षमता और भी ज्यादा है.’’देश में अब तक की गईं 9.6 करोड़ जांचें
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अभी तक 9.6 करोड़ कोविड-19 जांच की गई हैं, संक्रमित होने की समग्र, साप्ताहिक, दैनिक दरें क्रमश: 7.9 प्रतिशत, छह प्रतिशत, 4.5 प्रतिशत है. मंत्रालय की ओर से बताया कि कोविड-19 से मृत्यु की दर एक सितम्बर के 1.77 प्रतिशत से कम होकर वर्तमान में 1.52 प्रतिशत हो गई है.

ये भी पढ़ें: PM मोदी का देश के नाम संबोधन, कहा- लॉकडाउन भले चला गया लेकिन वायरस अब तक नहीं गया है

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 4 दिन बाद ऐसा हुआ है कि 24 घंटे में सामने आये कोविड-19 के मामले 50,000 से कम हैं. भारत में पिछले सात दिनों में प्रति 10 लाख आबादी पर कोविड-19 मामलों की संख्या 310 है, जबकि वैश्चिक औसत 315 है. स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि 19 अक्टूबर की स्थिति के अनुसार देश में आक्सीजन सहायतित 2,65,046 बिस्तर उपलब्ध हैं जबकि 7,71,36 आईसीयू बिस्तर और 39,527 वेंटीलेटर बिस्तर उपलब्ध हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कुल उपचाराधीन मामलों में से 64 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल में हैं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here