अदालत ने फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ दुष्कर्म मामले की सुनवाई की रिपोर्टिंग पर रोक लगाई | nation – News in Hindi

0
2
अदालत ने फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ दुष्कर्म मामले की सुनवाई की रिपोर्टिंग पर रोक लगाई

अदालत ने यह आदेश मुलक्कल की याचिका पर दिया. (फाइल फोटो)

कोर्ट ने रेप आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल (Bishop Franco Mulakkal) के खिलाफ चल रही सुनवाई की खबर मीडिया में बिना अनुमति के प्रकाशित करने पर रोक लगा दी है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 16, 2020, 12:05 AM IST

कोट्टायम. केरल के कोट्टायम की एक अदालत ने नन से दुष्कर्म के आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल  (Bishop Franco Mulakkal) के खिलाफ चल रही सुनवाई की खबर प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया (Print and Electronic media) में बिना अनुमति के प्रकाशित करने पर रोक लगा दी है. अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश गोपकुमार जी ने आदेश जारी कर मामले की सुनवाई या प्रक्रिया से जुड़ी कोई भी खबर मीडिया में प्रकाशित करने पर रोक लगा दी. मीडिया में बिना पूर्व अनमुति के गवाहों की ओर से दिए गए सबूत पर भी चर्चा की अनुमति नहीं होगी.

मुलक्कल ने मामले की सुनवाई बंद कमरे में करने का अनुरोध किया था 
अदालत ने यह आदेश मुलक्कल की याचिका पर दिया जिसमें उन्होंने मामले की सुनवाई बंद कमरे में करने का अनुरोध किया था और आरोप लगाया था कि अभियोजन पक्ष ने सुनवाई के शुरुआत में गवाहों की धारा-161 के तहत हुए बयान को लीक किया जिसके बाद मीडिया ने इसके विभिन्न पहलुओं पर चर्चा शुरू कर दी.

न्यायाधीश ने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे साबित हो कि अभियोजन ने धारा-161 (गवाह द्वारा पुलिस के समक्ष दर्ज बयान) के तहत दर्ज बयान को मीडिया से साझा किया. न्यायाधीश ने कहा कि रोक केवल पीड़ित की पहचान जाहिर करने पर है. गौरतलब है कि अदालत ने 18 अगस्त को आरोपी के लिए खिलाफ आरोप तय किए थे और मामले की सुनवाई शुरू हुई है.कोट्टायम जिले में जून 2018 में दर्ज हुआ था मामला

गौरतलब है कि एक नन ने जालंधर धर्मक्षेत्र के बिशप मुलक्कल के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है. कोट्टायम जिले में जून 2018 में दर्ज शिकायत के मुताबिक मुलक्कल ने वर्ष 2014 से वर्ष 2016 के बीच उसका यौन उत्पीड़न किया.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here