SSR Case: CBI का सिंगल मर्डर केस में क्या है ट्रैक रिकॉर्ड और क्यों लगता है डर? | patna – News in Hindi

0
15
SSR Case: CBI का सिंगल मर्डर केस में क्या है ट्रैक रिकॉर्ड और क्यों लगता है डर?

नई दिल्ली. फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) ने आत्महत्या की या हत्या, इस रहस्य से पर्दा उठाने का जिम्मेवारी अब सीबीआई (CBI) पर है. बीते चार दिनों से सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी हुई है. सीबीआई लगातार इस केस से जुड़े सभी अहम किरदारों से पूछताछ कर रही है. हालांकि, शुरुआती जांच में सीबीआई को कोई बड़ी कामयाबी हासिल नहीं हुई है. इसके बावजूद सुशांत सिंह राजपूत मामले में सबकी निगाहें सीबीआई पर टिकी हुई हैं और उम्मीद की जा रही है कि एजेंसी इस मामले को सुलझा लेगी. हालांकि, हाल के कुछ वर्षों में सिंगल मर्डर और सुसासाइड के कई ऐसे मामले सीबीआई के पास आई है, जिसे सालों बाद आज तक नहीं सुलझाया गया है. ऐसे में सीबीआई के पास सुशांत सिंह राजपूत केस के जरिए सिंगल मर्डर केस में अपने पुराने ट्रैक रिकॉर्ड को सुधारने का यह बेहतरीन मौका है.

क्या कहते हैं जानकार
जानकारों का मानना है कि सुशांत सिंह राजपूत का मामला भी सीबीआई के लिए इतना आसान नहीं होने वाला है. सुशांत की मौत के तकरीबन 65 दिनों के बाद सीबीआई ने जांच की जिम्मेवारी संभाली है. इस दौरान कई साक्ष्य नष्ट भी किए गए होंगे! साथ ही आरोपियों को साक्ष्य मिटाने में काफी वक्त भी मिल गया होगा. ऐसे में सीबीआई इस केस को सुलझा लेगी यह कहना थोड़ी जल्दबाजी होगी.

सुशांत सिंह राजपूत का मामला भी सीबीआई के लिए इतना आसान नहीं होने वाला है.

सिंगल मर्डर केस में CBI का ट्रैक रिकॉर्ड
सीबीआई के अंतरिम निदेशक रह चुके नागेश्वर राव न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में कहते हैं, ‘मैं सुशांत सिंह राजपूत केस के बारे में कुछ नहीं कह सकता. जहां तक सीबीआई के सिंगल मर्डर केस जांच को लेकर जो बातें की जा रही हैं, वह ठीक नहीं है. जो भी मामले इस तरह के आते हैं वह काफी दिनों के बाद सीबीआई के पास आती है. ऐसे में आरोपियों के पास पर्याप्त समय मिल जाता है साक्ष्य मिटाने के लिए. इसके बावजूद सीबीआई कई केस को अंजाम तक पहुंचाई है. सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच एजेंसी अपना बेहतरीन दे रही है इसलिए इसके बारे में कयास लगाना ठीक नहीं है.’

क्या कहते हैं पूर्व निदेशक
वहीं सीबीआई के पूर्व निदेशक एपी सिंह कहते हैं, ‘केस बड़ा जटिल है और लेट भी काफी हो गया है. एजेंसी के लिए आत्महत्या के लिए उकासाने जैसे मामले की जांच और साबित करना एक मुश्किल काम होता है. आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला बहुत मुश्किल मामला है. एक व्यक्ति का मनोवैज्ञानिक विश्लेषण और कई अन्य पहलुओं पर विचार किया जाता है और यह जांच में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. रिया चक्रवर्ती को आत्महत्या के आरोपों के लिए फिलहाल गिरफ्तार नहीं किया जाएगा. हां, अगर सीबीआई के शुरुआती पूछताछ में रिया के खिलाफ कुछ अहम सबूत हाथ लगते हैं तो फिर सीबीआई रिया को गिरफ्तार कर सकती है. क्योंकि, रिया ने एक सप्ताह पहले ही सुशांत का घर छोड़ दिया था. ऐसे में कम ही संभावना है कि रिया को गिरफ्तार किया जाए. रिया ने 8 जून को सुशांत के बांद्रा वाले घर को छोड़ कर चली गई थी और 14 जून को सुशांत ने आत्महत्या कर लिया था.’

सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत केस के जरिए सिंगल मर्डर केस के ट्रैक रिकॉर्ड को सुधारने की पूरी कोशिश कर रही है.

सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत केस के जरिए सिंगल मर्डर केस के ट्रैक रिकॉर्ड को सुधारने की पूरी कोशिश कर रही है.

सुशांत केस में सीबीआई ने तेजतर्रार अधिकारियों की टीम बनाई
बता दें कि सीबीआई सुशांत सिंह राजपूत केस के जरिए सिंगल मर्डर केस के ट्रैक रिकॉर्ड्स को सुधारने की पूरी कोशिश कर रही है. सीबीआई ने इस केस में अपने तीन तेजतर्रार आईपीएस अधिकारियों को उतार कर संकेत देने की कोशिश की है कि इस जांच को अंतिम पड़ाव पर ले जाकर ही दम लेंगे. सीबीआई के संयुक्त निदेशक मनोज शशिधर, डीआईजी गगनदीप गंभीर, एसपी नूपुर प्रसाद और एडिशनल एसपी अनिल यादव इस जांच को लीड कर रहे हैं.

क्या है सीबीआई के पूराने ट्रैक रिकॉर्ड्स
एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने भी सीबीआई के पुराने ट्रैक रिकॉर्ड्स की याद दिलाई है. ऐसे में सवाल उठता है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत गुत्थी सुलझाने में सीबीआई कितना कारगर साबित होगी? बिहार के मुजफ्फरपुर से आठ साल पहले नवरुणा नाम की एक लड़की का अपहरण और हत्या केस में आज तक सीबीआई कोई नतीजे पर नहीं पहुंची है. नवरुणा हत्याकांड की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में चल रही है. इसी तरह बिहार का एक और चर्चित रणवीर सेना के प्रमुख ब्रह्मेश्वर मुखिया की हत्या की गुत्थी भी सुलझाने में सीबीआई अभी तक असफल साबित हुई है. इसी तरह महाराष्ट्र में नरेंद्र दाभोलकर मर्डर केस की गुत्थी भी आज तक नहीं सुलझ पाई है. नोएडा में आरुषि हत्याकांड या फिर गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न मर्डर केस की जांच पर भी सीबीआई के ऊपर कई सवाल उठ चुके हैं.

सीबीआई, सुशांत सिंह राजपूत, रिया चक्रवर्ती, Sushant singh rajput case cbi investigation live, Sushant Singh Rajput, Single murder case cbi handle track records, sushant case live updates cbi, sushant case cbi investigation, Rhea Chakraborty, CBI in Mumbai, news from bollywood News, news from bollywood News in Hindi, Latest news from bollywood News, news from bollywood Headlines, sushant singh rajput, sushant singh rajput case, cook neeraj, cbi probe, सुशांत सिंह राजपूत, नीरज, सिंगल मर्डर केस में सीबीआई का ट्रैक रिकॉर्ड, एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार, सीबीआई के पुराने ट्रैक रिकॉर्ड्स, नवरुणा हत्या केस, नवरुणा हत्याकांड, रणवीर सेना के प्रमुख ब्रह्मेश्वर मुखिया की हत्या की गुत्थी, महाराष्ट्र में नरेंद्र दाभोलकर मर्डर केस, आरुषि हत्याकांड, प्रद्युम्न मर्डर केस, sushant singh rajput death murder suicide investigation cbi track record in single murder case riya chakraborty nodrssकई पुराने मामले में सीबीआई को अभी तक कुछ खास सफलता नहीं मिली है. (फाइल फोटो)ब्रह्मेश्वर मुखिया

कई पुराने मामले में सीबीआई को अभी तक कुछ खास सफलता नहीं मिली है. (फाइल फोटो)

बिहार के सृजन घोटाले का क्या हुआ
इसी तरह भागलपुर का सृजन घोटाला, जिसमें 1800 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का गबन हुआ वह मामला भी अभी तक सीबीआई के लिए रहस्य बना हुआ है. इस मामले की मुख्य अभियुक्त मनोरमा देवी जिनका निधन हो गया उसके बेटे और बहु को सीबीआई आज तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है.

ये भी पढ़ें: देश के हर ब्लॉक में खुलेंगे अब Gold हॉलमार्किंग केंद्र, लाखों लोगों को मिलेगा रोजगार यहां करें आवेदन

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत 14 जून 2020 को अपने कमरे में मृत पाए गए थे. आत्महत्या या हत्या में अभी तक पूरी जांच उलझी हुई है. महाराष्ट्र पुलिस की शुरुआती जांच में यह बात सामने आई थी कि बॉलीवुड में काम कर रहे कुछ सीनियर, स्थापित कलाकारों ने जान-बूझकर ऐसे हालात पैदा किए कि सुशांत डिप्रेशन में चले गए और उन्हें आत्महत्या जैसा कदम उठाना पड़ा. सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने जब पटना में सुशांत सिंह राजपूत की महिला मित्र रिया चक्रवर्ती और सुशांत के कुछ मित्रों पर एफआईआर दर्ज की तो मामले ने दूसरा मोड़ ले लिया. बाद में ईडी ने भी जांच शुरू की और अब मामला सीबीआई ने अपने जिम्मे लिया है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here