वेबिनार में हिंदी को लेकर हुई तनातनी तो शशि थरूर बोले- सत्ता में है टुकड़े-टुकडे़ गैंग | nation – News in Hindi

0
10
अयोध्या में प्रधानमंत्री मोदी के भाषण पर शशि थरूर को

कांग्रेस नेता शशि थरूर

Row Over Hindi: शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने आरोप लगाया है कि योग को लेकर आयोजित इस वेबिनार में आयुष मंत्रालय के सचिव राजेश कोटेचा ने गैर-हिंदी भाषी योग शिक्षकों और डॉक्टरों को छोड़ने के लिए कहा.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    August 23, 2020, 10:18 AM IST

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने एक वेबिनार को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने आरोप लगाया है कि केंद्र में टुकड़े-टुकडे़ गैंग की सरकार है. दरअसल ये पूरा माला एक वेबिनार को लेकर है. थरूर ने आरोप लगाया है कि योग को लेकर आयोजित इस वेबिनार में आयुष मंत्रालय के सचिव राजेश कोटेचा ने गैर-हिंदी भाषी योग शिक्षकों और डॉक्टरों को छोड़ने के लिए कहा.

थरूर की नाराज़गी
थरूर ने आरोप लगाते हुए एक ट्वीट किया है. इसमें उन्होने लिखा है, ‘ये असाधारण है जब भारत सरकार के सचिव तमिलों को एक वेबिनार छोड़ने के लिए कहते हैं अगर वे उनकी हिंदी नहीं समझ सकते हैं. अगर सरकार के पास कोई शालीनता है तो उसे तमिल सिविल सर्वेंट द्वारा बदल दिया जाना चाहिए! सत्ता में अब टुकड़े-टुकडे़ गैंग का राज है!

क्या है पूरा मामला?
बता दें कि पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. 40-सेकंड की वीडियो क्लिप में कथित तौर पर कोटेचा वेबिनार से ऐसे लोगों को बाहर जाने के लिए कह रहे हैं जो हिंदी नहीं समझ सकते. वो कहते हैं, ‘मैं हिंदी में सहज हूं और हिंदी में बोलना पसंद करूंगा. जो कोई भी अंग्रेजी चाहता है वो इसे छोड़ कर जा सकता है . बता दें कि न्यूज़ 18 इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है.

 कोटेचा की सफाई
हालांकि अंग्रेजी अखबार हिंदू से बातचीत करते हुए राजेश कोटेचा ने सारो आरोपों को गलत बताया है. उन्होंने कहा है कि उनकी बातों को वीडियो में तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है. बता दें कि वेबिनार सेमीनार का ही एक रूप है जहां वेबसाइट के जरिए लोग अलग-अलग जगहों से जुड़ते हैं. कोरोना काल में सेमीनार के इस तरीके को काफी लोकप्रियता मिली है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here