TRAI प्रमुख ने कहा- विकास के लिए फिक्स्ड ब्रॉडबैंड, वाईफाई हॉटस्पॉट, डिजिटल निवेश जरूरी | business – News in Hindi

0
13
TRAI प्रमुख ने कहा- विकास के लिए फिक्स्ड ब्रॉडबैंड, वाईफाई हॉटस्पॉट, डिजिटल निवेश जरूरी

ट्राई चेयरमैन आरएस शर्मा ने कहा कि देश के चौतरफा विकास के लिए डिजिटल सेक्‍टर में निवेश करना जरूरी है.

टेलीकॉम रेग्‍युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के चेयरमैन आरएस शर्मा ने कहा कि ब्रॉडबैंड सेवाएं (Broadband Services) प्रदान करने में केबल टीवी के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. साथ ही उन्‍होंने मेन नेटवर्क के बीच मिडिल लिंक के लिये वीसैट लिंक, 5जी का लाभ उठाने, उच्च क्षमता वाले ई-बैंड और वी-बैंड के इस्तेमाल पर जोर दिया.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    August 19, 2020, 11:51 PM IST

नई दिल्ली. टेलीकॉम रेग्‍युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) के चेयरमैन आरएस शर्मा ने कहा कि टिकाऊ और चौतरफा विकास (Sustainable Development) के लिए फिक्स्ड ब्रॉडबैंड (Broadband), वाईफाई हॉटस्पॉट (Wi-Fi Hotspot) व डिजिटल निवेश (Digital Investment) बहुत जरूरी है. उन्होंने ब्रॉडबैंड फोरम ऑफ इंडिया (BFI) के कार्यक्रम में कहा कि कोविड-19 महामारी (Coronavirus in India) के बाद के दौर में विभिन्न क्षेत्रों में इनोवेटिव और कॉन्‍टैक्‍टलेस सिस्‍टम, फिक्स्ड ब्रॉडबैंड पर जोर देने, फाइबर टू होम व इन-बिल्डिंग समाधान, वाईफाई हॉटस्पॉट के प्रसार तथा डिजिटल बुनियादी संरचनाओं में निवेश पर जोर देने से भारत डिजिटल टेक्‍नोलॉजी का पूरा फायदा उठा सकेगा.

शर्मा ने कहा, नए ऐप्‍स से लोगों जीवन पर अच्‍छा असर पड़े
आरएस शर्मा ने ब्रॉडबैंड सेवाएं प्रदान करने में केबल टीवी की बुनियादी संरचना का इस्तेमाल करने, मुख्य नेटवर्क के बीच माध्यमिक लिंक के लिये वीसैट लिंक, 5जी का लाभ उठाने, बैकहॉल के लिये उच्च क्षमता वाले ई-बैंड और वी-बैंड का इस्तेमाल करने पर जोर दिया. साथ ही कहा कि क्लाउड सेवाओं, डेटा सेंटर्स और वीडियो कांफ्रेंसिंग ऐप को बढ़ावा दिया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि डेवलप किए जा रहे नए ऐप्‍स में लोगों के जीवन पर अच्‍छा असर डालने, रोजगार व उत्पादकता बढ़ाने, स्किल्‍स में सुधार करने और आम लोगों के जीवनस्तर को ऊपर उठाने की क्षमता होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें- अब नौकरी ढूंढने में Google करेगा आपकी मदद, आपको करना है बस इतना, LinkedIn को देगा टक्‍करआम आदमी को फायदा नहीं पहुंचाने वाली टेक्‍नोलॉजी बेकार

ट्राई प्रमुख ने कहा, ‘हमें यह भी महसूस करना चाहिए कि अच्‍छी से अच्‍छी टेक्‍नोलॉजी भी अगर आम आदमी को फायदा नहीं पहुंचा पाती है तो बेकार है. कुछ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अकाउंट ख्नोलने और विचार व तस्वीरें साझा करना ही ऐप का अंतिम उद्देश्य नहीं हो सकता है. हमें लोगों के जीवन पर अच्‍छा असर डालते रहना चाहिए. रोजगार के अवसर पैदा करने में योगदान देना चाहिए. साथ ही ऐप के जरिये यूजर्स के व्यवहार को बेहतर बनाने, बाजारों को खोलने और आम आदमी की स्किल्‍स व जीवनस्तर को बेहतर बनाने पर जोर देना चाहिए.

ये भी पढ़ें- इस ऐप से रेहड़ी-पटरी वालों को मिनटों में मिलेगा लोन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

ट्राई प्रमुख शर्मा ने बिल्डिंग्‍स बाईलॉज में संशोधन की मांग की
टेलीकॉम सेक्‍टर के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को शामिल करने के उद्देश्य से बिल्डिंग्‍स बाइलॉज में संशोधन की मांग करते हुए ट्राई प्रमुख ने कहा कि दूरसंचार सुविधाओं को उसी तरह से आवश्यक बनाया जाना चाहिए जैसे बिजली और पानी के पाइप होते हैं. शर्मा ने कहा कि सभी बहुमंजिला इमारतें (Multi-Storey Buildings) बनाने वालों को इस बात का खास ख्‍याल रखना चाहिए. हालांकि, जब बात दूरसंचार की आती है तो बिलडर्स टेलीकॉम कंपनियों से शुल्क वसूलने लगते हैं. बिल्‍डर्स को इस मामले में अपनी सोच का दायरा बढ़ाना चाहिए.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here