Sushant case: Political parties welcomed the decision of CBI investigation | सुशांत मामला : राजनीतिक पार्टियों ने किया सीबीआई जांच के फैसले का स्वागत

0
16
comScore


नई दिल्ली, 19 अगस्त (आईएएनएस)। सत्तारूढ़ जनता दल-यूनाइटेड(जदयू), उसकी गठबंधन सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) और प्रमुख विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने बुधवार को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई जांच के सुप्रीम कोर्ट के फैसले का दिल खोलकर स्वागत किया।

राजद से सांसद और प्रवक्ता मनोज के. झा ने आईएएनएस को बताया, सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले पर सीबीआई जांच होने का आदेश दिया है और हम इससे बहुत खुश हैं।

उन्होंने आगे कहा, हमारी पार्टी और बिहार के प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव ने सीबीआई जांच के लिए एक दिन के विधानसभा सत्र और विधानसभा के बाहर भी आवाज उठाई थी और अब हम बिना यह सोचे बगैर कि कौन बड़े से बड़ा दिग्गज इस केस में शामिल हैं, सच को जल्द से जल्द सामने लाना चाहते हैं।

लोजपा प्रमुख चिराग पासवान भी शीर्ष अदालत के फैसले का स्वागत करते हुए कहा, सीबीआई जांच का आदेश देने के लिए मैं सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया अदा करता हूं क्योंकि इसने करोड़ों लोगों की भावनाओं का सम्मान किया है। जिस तरीके से सीबीआई को जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है, उससे लंबे समय से की जा रही एक मांग को पूरा किया गया है जिससे अब यह साफ हो जाएगा कि सच क्या है और इस केस को घुमाने में किन लोगों का नाम शामिल है।

पासवान ने कहा, उम्मीद करता हूं कि इस फैसले से उनके परिवार को काफी राहत पहुंची होगी, अब उन्हें न्याय जल्दी मिलेगा।

जेडी-यू के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने भी यह कहा कि दिवंगत अभिनेता की मौत पर सीबीआई जांच से सबकी सच्चाई बाहर आ जाएगी।

उन्होंने कहा, यह न्याय के लिए एक बहुत बड़ी जीत है। सुप्रीम कोर्ट ने माना कि बिहार पुलिस की प्राथमिकी सही थी और साथ ही मुंबई पुलिस को आदेश का अनुसरण करने का निर्णय दिया है। यह एक ऐतिहासिक पल है क्योंकि केस के संदर्भ में दोनों राज्य आपस में भिड़ गए थे जो कि अत्यन्त दुखद है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने करोड़ों लोगों की भावनाओं का सम्मान किया।

इधर, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार के पोते और उप मुख्यमंत्री अजीत पवार के बेटे पार्थ पवार ने ट्वीट करते हुए कहा, सत्यमेव जयते।

पार्थ ने कुछ दिनों पहले ही सुशांत मामले पर सीबीआई जांच के लिए अपनी मांग रखी थी, उन्होंने पार्टी लाइन से अलग होकर ऐसा किया था।

बुधवार को सुशांत मामले पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा सीबीआई जांच के आदेश दिए जाने के बाद भिन्न राजनीतिक दलों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस से यह भी कहा है कि अब तक उनके द्वारा जितने भी सबूत एकत्रित किए गए हैं, उन्हें सीबीआई को सौंप दिया जाए।

न्यायमूर्ति ऋषिकेश रॉय ने कहा है कि सीबीआई घटना के संबंध में न केवल पटना एफआईआर बल्कि अन्य एफआईआर की जांच करने में भी सक्षम होगी।

एएसएन/आरएचए

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here