Sanjay Singh accuses Yogi government for locking AAP’s party office in Lucknow | बयान: संजय सिंह ने कहा, योगी सरकार ने AAP के लखनऊ ऑफिस पर ताला लगवाया

0
14
comScore


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने योगी सरकार पर AAP के लखनऊ स्थित पार्टी ऑफिस पर ताला लगवाने का आरोप लगाया है। संजय सिंह ने कहा, ‘मैं योगी सरकार के खिलाफ सच की आवाज़ उठा रहा हूं, जिसके कारण ‘आप’ कार्यलय को बंद करवा दिया गया है। मैं योगी जी से कहना चाहता हूं कि आपसे बलात्कार, हत्या की घटनाएं रुकती नहीं, लेकिन आप विपक्ष की आवाज़ दबाना चाहते है। आप FIR करके हमारी आवाज़ नहीं रोक सकते।’

क्या कहा संजय सिंह ने?
संजय सिंह ने कहा, ‘योगी जी क्या बचकाना खेल रहे हैं? मेरे कार्यालय पर ताला डलवा दिया। फिर पुलिस भेजकर मकान मालिक को धमकाया। इतनी मेहनत अपराध रोकने में करते तो जनता का भला होता। चिंता मत करो हम आम आदमी हैं सड़क पर कार्यालय खोल लेंगे, लेकिन आपकी जुल्मी सरकार को बेनक़ाब करता रहूंगा। संजय सिंह ने कहा, मैं नहीं चाहता कि मेरे कारण मकान मालिक परेशान हों। मैं कहीं दूसरे स्थान पर अपना कार्यालय खोल सकता है। कई लोगों के मुझे फोन आ रहे हैं, कि मेरे यहां अपना दफ्तर खोल लें।

क्या कहा गोमती नगर SHO ने?
इस मामले में गोमती नगर के SHO धीरज कुमार सिंह ने कहा कि पुलिस ने किसी के पार्टी कार्यालय पर कोई ताला नहीं लगाया है। यह ताला किसने और क्यों लगाया?… इस बारे में मुझे सूचना नहीं है। उन्होंने बताया कि पुलिस पर अनर्गल और निराधार इलजाम लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है मकान मालिक से किसी बात को लेकर कुछ विवाद हो गया हो? इस बारे में मकान मालिक से पूछताछ के बाद ही केस स्पष्ट हो सकता है।

संजय सिंह पर FIR
उधर, संजय सिंह पर यूपी में एक FIR दर्ज कराई गई है। सीएम योगी पर टिप्पणी करने को लेकर उनपर ये FIR लखीमपुर खीरी के गोला गोकर्णनाथ कोतवाली में दर्ज की गई है। संजय सिंह पर आरोप लगा है कि उन्होंने समाज को बांटने वाला बयान दिया है। दरअसल उन्होंने 12 अगस्त को अपने सहयोगी सभाजीत सिंह और बृजकुमारी के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। इसमें संजय सिंह ने आरोप लगाए थे कि यूपी सरकार में चुन-चुन को लोगों को मारा जा रहा है। ब्राह्मणों पर अत्याचार भी हो रहा है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here