PM मोदी बोले- मालदीव से दोस्ती हिंद महासागर जितनी गहरी, भारत जारी रखेगा सहयोग | nation – News in Hindi

0
3
PM मोदी बोले- मालदीव से दोस्ती हिंद महासागर जितनी गहरी, भारत जारी रखेगा सहयोग

अर्थव्यवस्था पर कोरोना के प्रभाव को कम करने के लिए मालदीव का सहयोग करेगा भारत (फोटो-ANI)

भारत (India) ने गुरुवार को मालदीव (Maldives) में महत्वपूर्ण सम्पर्क परियोजना को अमलीजामा पहनाने के लिए 40 करोड़ डॉलर की कर्ज सुविधा और 10 करोड़ डॉलर का अनुदान देने की घोषणा की

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार को भारत-मालदीव मित्रता को हिन्द महासागर की तरह गहरा बताते हुए कहा कि वहां की अर्थव्यवस्था पर कोविड-19 महामारी के प्रभाव को कम करने के लिए नयी दिल्ली अपना सहयोग जारी रखेगा. पीएम मोदी का यह बयान मालदीव (Maldives) के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह की उस प्रतिक्रिया के बाद आया जिसमें उन्होंने भारत द्वारा मालदीव में वृहद आधारभूत ढांचा परियोजना के लिये 50 करोड़ डालर की सहायता के लिए आभार व्यक्त जताया.

भारत ने गुरुवार को मालदीव में महत्वपूर्ण सम्पर्क परियोजना को अमलीजामा पहनाने के लिए 40 करोड़ डॉलर की कर्ज सुविधा और 10 करोड़ डॉलर का अनुदान देने की घोषणा की. राष्ट्रपति सोलिह ने इसके लिए भारत की जनता और प्रधानमंत्री मोदी का आभार व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ‘‘मालदीव-भारत सहयोग में आज एक ऐतिहासिक क्षण है. हमें ग्रेटर माले कनेक्टिविटी परियोजना (जीएमसीपी) के लिए भारत से 40 करोड़ डालर की कर्ज सुविधा 10 करोड़ डालर का अनुदान प्राप्त हुआ. मैं इस उदारता और मित्रता के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वहां की जनता का धन्यवाद करता हूं.’’

50 करोड़ डॉलर की मदद

सोलिह के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए मोदी ने लिखा, ‘धन्यवाद राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह! कोविड-19 महामारी से मालदीव की अर्थव्यवस्था पर पड़े प्रभाव को कम करने के लिए भारत अपना सहयोग जारी रखेगा. हमारी विशिष्ट मित्रता हिन्द महासागर की तरह गहरी है और हमेशा रहेगी.’ विदेश मंत्री एस जयशंकर ने गुरुवार को मालदीव के अपने समकक्ष अब्दुल्ला शाहिद से विविध विषयों पर व्यापक चर्चा के बाद कहा कि भारत, मालदीव में महत्वपूर्ण सम्पर्क परियोजना को अमलीजामा पहनाने के लिए 40 करोड़ डॉलर की कर्ज सुविधा और 10 करोड़ डॉलर का अनुदान देगा .अधिकारियों ने मुताबिक कि 6.7 किलोमीटर की जीएमसीपी मालदीव में सबसे बड़ी नागरिक आधारभूत परियोजना होगी जो माले को तीन पड़ोसी द्वीपों – विलिंगिली, गुल्हीफाहू और थिलाफूसी से जोड़ेगी.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here