सुशांत के चचेरे भाई BJP विधायक नीरज कुमार सिंह ने संजय राउत को कानूनी नोटिस भेजा | bollywood – News in Hindi

0
4
सुशांत के चचेरे भाई BJP विधायक नीरज कुमार सिंह ने संजय राउत को कानूनी नोटिस भेजा

संजय राउत और नीरज कुमार सिंह

शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) की सुशांत के परिवार पर की गई टिप्पणी उनके ऊपर भारी पड़ रही है. अब सुशांत के चचेरे भाई नीरज कुमार सिंह (Neeraj Kumar Singh) ने उन्हें लीगल नोटिस भेजा है.

पटना. बिहार में बीजेपी (BJP) के विधायक और दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के चचेरे भाई नीरज कुमार सिंह (Neeraj Kumar Singh) उर्फ बबलू ने एक्टर के परिवार विशेषकर उनके शोक संतप्त पिता के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर शिवसेना (Shiv Sena) सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) को लीगल नोटस भेजा है.

कुछ समय पहले राउत ने कहा था कि 2002 में सुशांत की मां की मौत के बाद उनके पिता ने दूसरी शादी कर ली थी. शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में राउत ने कहा था कि पिता की ‘दूसरी शादी’ से एक्टर नाराज थे. सुशांत के उनके पिता के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध नहीं थे. ऐसा हो सकता है कि इसी मानसिक कष्ट के कारण उन्होंने अपने करियर के शिखर पर यह कदम (आत्महत्या) उठाया हो.

सुशांत के अंतिम संस्कार के बाद उनके परिवार के साथ मुंबई गए बबलू ने एक्टर के पिता केके सिंह के बारे में राउत द्वारा की गयी टिप्पणी को खारिज कर दिया. उन्होंने राउत को चेताते हुए कहा था कि इस तरह का बकवास करने से वह बचें नहीं तो वे उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा करने पर विचार कर सकते हैं.

बबलू के वकील अनीश झा ने बताया कि उनके मुवक्कित ने इस मामले में राउत को बुधवार को एक कानूनी नोटिस भेजा है जिसमें उनसे कहा है कि वह संसद के एक सम्मानित सदस्य और पार्टी के एक जिम्मेदार प्रवक्ता हैं ऐसे उन्हें अपनी उक्त आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर 48 घंटे के भीतर माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि यदि वह ऐसा करते हैं, तो हम आगे नहीं बढ़ेंगे. अगर वह नहीं करते हैं, तो हम कानूनी उपाय की तलाश करेंगे.सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून को उनके फ्लैट में मिला था
बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत का शव बीते 14 जून को मुंबई के बांद्रा इलाके स्थित उनके फ्लैट में मिला था. पिछले महीने पिता केके सिंह ने पटना के राजीवनगर थाने में एक्ट्रेस गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ केस दर्ज करवाया था. जिसके बाद पटना पुलिस की एक टीम मामले की जांच के लिए मुंबई गई थी. पिछले हफ्ते गुरुवार को केंद्र ने बिहार सरकार के अनुरोध पर यह मामला सीबीआई को सौंप दिया था. जिसके बाद अब केंद्रीय जांच एजेंसी इस मामले की जांच में जुट गई है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here