धोनी, ब्रावो वॉटसन जैसे बूढ़े खिलाड़ियों से चेन्नई सुपरकिंग्स को फायदा! बॉलिंग कोच ने कही बड़ी बात | cricket – News in Hindi

0
3
धोनी, ब्रावो वॉटसन जैसे बूढ़े खिलाड़ियों से चेन्नई सुपरकिंग्स को फायदा! बॉलिंग कोच ने कही बड़ी बात

बूढ़े खिलाड़ियों से चेन्नई सुपरकिंग्स को फायदा

2019 वर्ल्ड कप से अबतक प्रोफेशनल क्रिकेट नहीं खेले हैं एमएस धोनी (MS Dhoni)

नई दिल्ली. चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) के कोच एल बालाजी ने बुधवार को कहा कि उनकी टीम में कई खिलाड़ी 30 साल से ऊपर की उम्र के हैं लेकिन यह उनके लिये नुकसानदेह नहीं बल्कि फायदेमंद ही साबित होगा. कोरोना वायरस के कारण लंबे ब्रेक के बाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीमें 13वें चरण की तैयारी में जुटी हैं. महेंद्र सिंह धोनी (39 साल) आगामी आईपीएल चरण में तीन बार की विजेता सीएसके की अगुआई करने को तैयार हैं जिसका आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात में किया जायेगा.

सीनियर खिलाड़ियों से चेन्नई को फायदा
यह पूछने पर कि क्या सीनियर खिलाड़ियों को लय में आने में मुश्किल होगी तो बालाजी ने इससे इनकार करते हुए पीटीआई से कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि यह इतना मुश्किल होगा क्योंकि आपने पूरी जिंदगी यह खेल खेला है. इतने साल से इस खेल को समझते हो, जो सर्वश्रेष्ठ वापसी के लिये काम आयेगा.’ उन्होंने कहा, ‘अनुभव निश्चित रूप से अहम होगा. यह आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में साबित हो चुका है.’ कप्तान के अलावा फ्रेंचाइजी में शेन वॉटसन और ड्वेन ब्रावो जैसे अनुभवी खिलाड़ी मौजूद हैं.

धोनी देते हैं खिलाड़ियों को मौकाबालाजी ने कहा कि धोनी (MS Dhoni) ऐसे खिलाड़ी हैं जो एक प्रक्रिया का पालन करते हैं जिसमें वह बदलाव और बाहर करने के बजाय मौका और ‘एक्सपोजर’ देने में भरोसा करते हैं. उन्होंने कहा, ‘धोनी हमेशा समर्थन करने वाले कप्तान हैं. उनकी कप्तानी में कोई ‘शार्ट कट’ नहीं हैं, लेकिन बदलाव और बाहर करने के बजाय मौका देने और ‘एक्सपोजर’ में भरोसा करते हैं.’ यूएई जाने से पहले फ्रेंचाइजी ने 16 अगस्त से एक छोटे से शिविर की योजना बनायी है. उन्होंने कहा, ‘हां, अगर सबकुछ योजना के अनुरूप होता है तो हम 16 अगस्त से एक शिविर शुरू करेंगे। यह केवल भारतीय खिलाड़ियों के लिये होगा.’

चेन्नई के साथ 2022 तक रहेंगे धोनी!
इस बीच चेन्नई सुपरकिंग्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) कासी विश्वनाथन को लगता है कि उनके करिश्माई खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी 2021 और 2022 इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में फ्रेंचाइजी का हिस्सा रहेंगे. धोनी पिछले साल विश्व कप सेमीफाइनल के बाद से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेले हैं और 39 वर्षीय खिलाड़ी के आगामी आईपीएल से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी की उम्मीद है जो 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात में खेला जायेगा. विश्वनाथन ने कहा, ‘हमें एम एस धोनी के दोनों (2020 और 2021 आईपीएल) में हिस्सा होने की उम्मीद है और शायद इसके अगले साल 2022 में भी.’ उन्होंने कहा, ‘मुझे मीडिया से ही अपडेट मिल रहा है कि वह झारखंड में इंडोर नेट में ट्रेनिंग कर रहे हैं. लेकिन हमें कप्तान के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है. हम उसके बारे में बिलकुल चिंता नहीं करते.’ विश्वनाथन ने कहा, ‘ धोनी अपनी जिम्मेदारियों को जानते हैं और वह अपनी और टीम की देखभाल कर सकते हैं.’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here