धारावी में कोरोना: 10 दिन में एक भी मौत नहीं, 88 मरीजों का चल रहा इलाज | maharashtra – News in Hindi

0
2
धारावी में कोरोना: 10 दिन में एक भी मौत नहीं, 88 मरीजों का चल रहा इलाज

धारावी एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती है.

धारावी (Dharavi) में कोरोना संक्रमण (Coronavirus Maharashtra) नियंत्रण में आने के बाद अब मौतें भी थम गई हैं. घनी आबादी वाले क्षेत्र में फिलहाल 81 मरीजों का इलाज चल रहा है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    August 12, 2020, 11:17 AM IST

धारावी. मुंबई के धारावी (Dharavi) में कोरोना संक्रमण  (Coronavirus Maharashtra) नियंत्रण में आने के बाद अब मौतें भी थम गई हैं. स्थानीय अधिकारियों का दावा है कि 10 दिनों में धारावी में एक भी कोरोना संक्रमित की मौत नहीं हुई है. बता दें धारावी में 1 अप्रैल को संक्रमण का पहला मामला पाया गया था और उसी दिन उसकी मौत हो गई थी. बता दें धारावी की घनी बस्ती में मौजूद हर झोपड़ी में 8 से 10 लोग रहते हैं. जनसंख्या के मुकाबले यहां सार्वजनिक शौचालयों की भी कमी है. जिसकी वजह से सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना मुश्किल था.

फिर बीएमसी यानी बृहन्मुंबई नगरपालिका ने दो कोविड सेंटर बनाए और वहां संक्रमितों को इलाज के लिए भेजा गया. नगर निकाय के अनुसार धारावी से सटे में माहिम में 200 बिस्तरों का कोरोना केयर सेंटर बना और यहां ऑक्सीजन की सुविधा मिली. अधिकारियों ने यहां ट्रेस टेस्ट और ट्रीट के ट्रिपल टी का फार्मूला इस्तेमाल किया जो काम करने लगा.

 मंगलवार को आठ और लोग कोरोना वायरस से संक्रमित
बीएमसी के अनुसार अप्रैल में 67, मई में 154, जून में 37 और जुलाई में सात की मौत हुई. वहीं अगस्त में अब तक किसी की मौत नहीं हुई. हालांकि धारावी में मंगलवार को आठ और लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. इसके बाद इलाके में पुष्ट मामलों की संख्या 2,634 हो गई है. बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 2295 मरीज संक्रमण से पहले ही ठीक हो चुके हैं. घनी आबादी वाले क्षेत्र के 81 मरीजों का इलाज चल रहा है.मुंबई में मंगलवार को कोविड-19 के 917 नए मामले सामने आये जिससे यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,25,239 हो गई. वहीं 48 और मरीजों की संक्रमण से मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 6,890 हो गई. यह जानकारी बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने दी.

महाराष्ट्र में 11088 नए मामले, 256 की मौत
बीएमसी ने कहा कि दिन में 1,154 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई जिससे ठीक होने वाले मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 99,147 हो गई. बीमएसी ने कहा कि मुंबई में ठीक होने की दर वर्तमान में 79 प्रतिशत है. मामलों के दोगुना होने की दर 88 दिन है. बीएमसी ने कहा कि महानगर में अब इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 18,905  है.

वहीं पूरे महाराष्ट्र में मंगलवार को कोविड-19 के 11,088 नए मामले सामने आए जिससे कुल संक्रमित लोगों की संख्या 5,35,601 हो गई है जबकि संक्रमण के कारण 256 और रोगियों की मौत हो गई जिनमें 48 मौत महानगर मुंबई में हुई. राज्य के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि नए मामलों के साथ राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 5,35,601 हो गई है जबकि कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 18,306 हो गई है. अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को 10,014 रोगियों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई, जिससे अब तक संक्रमण से उबर चुके लोगों की संख्या 3,68,435 हो गई है. उन्होंने कहा कि राज्य में एक लाख 48 हजार 553 मरीजों का इलाज चल रहा है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here