UPSC के नए चेयरमैन नियुक्त किए गए प्रोफेसर प्रदीप कुमार जोशी | nation – News in Hindi

0
4
UPSC के नए चेयरमैन नियुक्त किए गए प्रोफेसर प्रदीप कुमार जोशी

प्रदीप कुमार जोशी मई 2015 में यूपीएससी के सदस्य बने थे. (फोटो-ANI)

UPSC की ओर से जारी बयान के अनुसार आयोग में शामिल होने से पहले प्रदीप कुमार जोशी (Pradeep Kumar Joshi) छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग और मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष थे.

नई दिल्ली. प्रोफेसर प्रदीप कुमार जोशी (Pradeep Kumar Joshi) शुक्रवार को यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) के नए चेयरमैन नियुक्त किए गए. उन्होंने अरविंद सक्सेना की जगह ये पद संभाला है. यूपीएससी भारत के नौकरशाहों एवं राजनयिकों समेत अहम पदों पर नियुक्ति के लिए सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन करता है. जोशी अभी तक आयोग के सदस्य थे.

छत्तीसगढ़ एवं मध्यप्रदेश के लोक सेवा आयोगों के अध्यक्ष रहे जोशी मई 2015 में यूपीएससी के सदस्य बने थे. एक आधिकारिक बयान के मुताबिक जोशी को यूपीएससी के निवर्तमान अध्यक्ष अरविंद सक्सेना ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. जोशी 12 मई 2015 को आयोग के सदस्य के रूप में शामिल हुए थे. UPSC की ओर से जारी बयान के अनुसार आयोग में शामिल होने से पहले वह छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग और मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष थे. बयान के अनुसार उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षण योजना एवं प्रशासन संस्थान (एनआईईपीए) के निदेशक के रूप में भी सेवाएं दीं.

12 मई 2021 तक होगा जोशी का कार्यकाल बयान में कहा गया, ‘‘अपने शानदार अकादमिक करियर में प्रोफेसर जोशी ने परा स्नातक स्तर पर 28 से अधिक वर्षों तक पढ़ाया और विभिन्न नीति निर्धारण, शैक्षणिक और प्रशासनिक निकायों में कई महत्वपूर्ण पदों पर रहे.” यूपीएससी के अध्यक्ष के तौर पर जोशी का कार्यकाल 12 मई 2021 तक होगा. जोशी को अध्यक्ष बनाए जाने के बाद यूपीएससी में अब एक सदस्य का पद रिक्त हो गया है.

वर्तमान में भीम सेन बस्सी, एयर मार्शल ए एस भोंसले (सेवानिवृत्त), सुजाता मेहता, मनोज सोनी, स्मिता नागराज, एम सत्यवती, भारत भूषण व्यास, टी सी ए आनंद और राजीव नयन चौबे यूपीएससी के अन्य सदस्य हैं. आयोग भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय विदेश सेवा समेत अहम सेवाओं के लिए तीन चरणों में वार्षिक सिविल सेवा परीक्षा आयोजित कराता है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here