सीएम जयराम ठाकुर बोले- पंचायत चुनाव तय समय पर ही होंगे, COVID-19 के चलते मंदिर अभी रहेंगे बंद | dharamsala – News in Hindi

0
6
सीएम जयराम ठाकुर बोले- पंचायत चुनाव तय समय पर ही होंगे, COVID-19 के चलते मंदिर अभी रहेंगे बंद

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने धर्मशाला में अधिकारियों के साथ मीटिंग की

प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों (Panchayat Elections) को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि बेशक कोरोना महामारी (coronavirus pandemic) के संकट का समय है लेकिन चुनाव समय पर ही सम्पन्न करवाए जाएंगे.

धर्मशाला. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jairam Thakur) ने प्रदेश में पंचायत चुनाव समय पर कराए जाने का ऐलान किया है. उनका कहना है कि बेशक कोरोना संकट का समय है लेकिन चुनाव समय पर होंगे. साथ ही उन्होंने भारत-चीन विवाद के बीच सीमा के पास से स्थानीय लोगों के पलायन की ख़बरों को आधारहीन बताया है. सीएम आज धर्मशाला पहुंचे थे इस दौरान उन्होंने तिब्बत को जोड़ने वाली सुरंग के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि 3200 करोड़ से बनकर तैयार हो रही ये 9 किलोमीटर लंबी सुरंग चीन के अधिकृत क्षेत्र तिब्बत की सीमा तक पंहुचने में सेना के लिए एक सुगम और महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी.

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि प्रदेश के किन्नौर और लाहौल स्पीति जिलों के साथ तिब्बत की सीमाएं लगती हैं. लेह के पास सीमा में भारत और चीनी सेना के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद सभी सीमा क्षेत्रों को अलर्ट किया गया था. केंद्र के दिशा-निर्देशों के चलते प्रदेश सरकार ने भी पांच आईपीएस अधिकारियों का दल भेजा था. इस दल ने इन क्षेत्रों में रह रहे लोगों से मिलकर वहां की हर तरह की गतिविधियों की रिपोर्ट बनाकर केंद्र सरकार को भेजी है.

ये भी पढ़ें- हनी ट्रैप गिरोह के चार सदस्य पुलिस की गिरफ्त में, अपनी ही नाबालिग बेटी का करते थे इस्तेमाल!

 

पलायन की ख़बरें आधारहीन
मुख्यमंत्री ने सीमावर्ती क्षेत्रों में रह रहे लोगों के पलायन की खबरों को आधारहीन बताते हुए कहा कि ऐसा कुछ नहीं है. वहां के लोग बिना किसी डर के रह रहे हैं. वह देश भक्त लोग हैं तथा देश के लिए कुछ भी करने के लिए सदैव तैयार हैं. उनके विकास के कुछ मुद्दे हैं उन पर बातचीत चल रही है. वहीं प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों (Panchayat Elections) को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि बेशक कोरोना महामारी (coronavirus pandemic) के संकट का समय है लेकिन चुनाव समय पर ही सम्पन्न करवाए जाएंगे. हालांकि मंदिरों को खोलने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि फिलहाल 31 अगस्त तक मंदिरों को खोलने का कोई विचार नहीं है. देश सहित हिमाचल में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़े हैं. अगर आने वाले समय में प्रदेश में कोरोना के मामलों में कमी आती है तो मंदिरों को खोलने पर विचार किया जा सकता है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here