केरल: लगातार बारिश के चलते भूस्खलन से 10 लोगों की मौत, 12 लोगों को बचाया गया | nation – News in Hindi

0
7
केरल: लगातार बारिश के चलते भूस्खलन से 10 लोगों की मौत, 12 लोगों को बचाया गया

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने इलाके में ‘रेड अलर्ट’ भी घोषित कर दिया है

Landslide in Kerala : स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक ये दुर्घटना इडुकी जिले की है. इन इलाके से भारी बारिश के चलते संपर्क टूट गया है. भारी बारिश के मद्देनजर वायनाड और इडुकी जिलों के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है.

मुन्नार. केरल के मुन्नार में लगातार हो रही बारिश के चलते एक बड़ा भूस्खलन (Landslide) हुआ है. इस हादसे में अब तक 12 लोगों की मौत हो गई है. चाय बागानों में काम करने वाले कई मजदूर फंस गए हैं. स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक ये दुर्घटना इडुक्की जिले की है. इन इलाके से भारी बारिश के चलते संपर्क टूट गया है. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक 12 लोगों को बचाया गया है. कहा जा रहा है कि करीब 80 लोग यहां रहते हैं.

इलाके में ‘रेड अलर्ट’
अधिकारियों ने बताया कि लगातार बारिश के कारण बिजली की लाइन प्रभावित होने से इलाके में संचार सेवाएं बाधित हैं. भूस्खलन के कारण करीब 10 मजूदरों के घर वहां धंस गए हैं. पुलिस और दमकल कर्मी मौके पर मौजूद हैं और जिला प्रशासन ने अस्पतालों से भी हर स्थिति का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने इलाके में ‘रेड अलर्ट’ भी घोषित कर दिया है।

भारतीय वायु सेना से मांगी गई मददसमाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक राहत और बचाव के लिए NDRF की टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है. करीब 20 घरों को नुकसान पहुंचा है. मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा कि उन्होंने बचाव कार्यों के लिए राजमाला में हेलीकाप्टर सेवाएं प्रदान करने के लिए भारतीय वायु सेना से संपर्क किया है.

खराब मौसम के चलते राहत पहुंचाने में परेशानी
केरल के राजस्व मंत्री ई चंद्रशेखरन ने कहा है कि 3 लेबर कैंप में करीब 82 लोग रहते थे. उन्होंने कहा कि फिलहाल इस बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है कि भूस्खलन के समय मजदूर वहां थे या फिर नहीं. चंद्रशेखरन के मुताबिक खराब मौसम के चलते घटनास्थल पर पहुंचने में काफी दिक्कते आ रही हैं.

लगातार हो रही है बारिश
उत्तरी केरल में बृहस्पतिवार को भारी बारिश हुई. भारी बारिश के मद्देनजर वायनाड और इडुकी जिलों के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है. वहीं, चेलियार नदी उफनाने से नीलांबुर शहर में बाढ़ आ गई है.
भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने अपने बुलेटिन में कहा कि सात अगस्त को बारिश के मद्देनजर मलप्पुरम जिले के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है. एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड सहित नौ जिलों में नौ अगस्त तक के लिए आरेंज अलर्ट जारी किया गया है. मलप्पुरम जिला प्रशासन ने जिले में नौ शिविर खोले हैं जबकि अकेले नीलांबुर में सात शिविर खोले गए हैं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here