Sankashti Chaturthi 2020: संकष्टी चतुर्थी 7 अगस्त को, जानें पूजा विधि और गणेश भगवान के शक्तिशाली मंत्र | dharm – News in Hindi

0
7
Sankashti Chaturthi 2020: संकष्टी चतुर्थी 7 अगस्त को, जानें पूजा विधि और गणेश भगवान के शक्तिशाली मंत्र

संकष्टी चतुर्थी पर गणेश भगवान की पूजा विधि जानें

संकष्टी चतुर्थी २०२० (Sankashti Chaturthi 2020): सनातन धर्म में इस व्रत का विशेष महत्व बताया गया है. इस दिन गणेश भगवान (God Ganesha) का व्रत करने से सुख-समृद्धि, ज्ञान और बुद्धि भी वृद्धि होती है.

संकष्टी चतुर्थी २०२० (Sankashti Chaturthi 2020): संकष्टी चतुर्थी 7 अगस्त, शुक्रवार यानी कि कल है. संकष्टी चतुर्थी को गणेश संकष्टी चतुर्थी या हेरम्ब संकष्टी चतुर्थी भी कहते हैं. संकष्टी चतुर्थी पर भक्त गणेश भगवान की पूजा-अर्चना करते हैं और व्रत करते हैं. विशेष रूप से महिलाएं ये व्रत पुत्र की लंबी आयु की कामना के साथ करती हैं. सनातन धर्म में इस व्रत का विशेष महत्व बताया गया है. इस दिन गणेश भगवान का व्रत करने से सुख-समृद्धि, ज्ञान और बुद्धि भी वृद्धि होती है. आइए जानते हैं संकष्टी चतुर्थी के दिन गणेश भगवान की पूजा विधि और गणेश भगवान के कुछ शक्तिशाली मंत्र….

संकष्टी चतुर्थी पर भगवान की पूजा विधि:
संकष्टी चतुर्थी के दिन सुबह जल्दी उठकर नित्यकर्म और स्नान करने बाद पूजाघर की साफ सफाई करें, आसन पर बैठकर व्रत का संकल्प लें और पूजा शुरू करें. गणेश भगवान गणेश जी की प्रिय चीजें पूजा में अर्पित करें और उन्हें मोदक का भोग लगाएं. संकष्टी चतुर्थी का व्रत सूर्योदय के समय से लेकर चन्द्रमा उदय होने के समय तक व्रत रखा जाता है.

गणेश भगवान के कुछ शक्तिशाली मंत्र:गणेश गायत्री मंत्र –

एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।

महाकर्णाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।

गजाननाय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।।
तांत्रिक गणेश मंत्र
ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
ग्लौम गणपति, ऋद्धि पति, सिद्धि पति। करों दूर क्लेश।।
गणेश कुबेर मंत्र
ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा। (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here