IPL टीम मालिकों को सता रहा है डर, कहा- एक गलती और बर्बाद हो जाएगा टूर्नामेंट | cricket – News in Hindi

0
14
IPL टीम मालिकों को सता रहा है डर, कहा- एक गलती और बर्बाद हो जाएगा टूर्नामेंट

19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच आईपीएल के 13वें सीजन का आयोजन किया जाएगा (फाइल फोटो)

आईपीएल (IPL) का आयोजन यूएई (UAE) में होगा जहां सभी को बायो सेक्यूर बबल में रहना होगा

नई दिल्ली. किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) के सह मालिक नेस वाडिया (Ness Wadia) का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के टाइटल प्रायोजक के बारे में अटकलें लगाने के बजाय ध्यान यह सुनिश्चित करने पर होना चाहिए कि टूर्नामेंट के दौरान कोविड-19 का एक भी मामला सामने नहीं आये.

एक गलती से बर्बाद हो जाएगा
वाडिया ने मालिकों की बुधवार शाम को हुई बैठक में पीटीआई से कहा, ‘ हम (टीम मालिक) केवल एक चीज जानते हैं कि आईपीएल हो रहा है. हम खिलाड़ियों और इसमें शामिल होने वाले अन्य लोगों की सुरक्षा के बारे में बहुत ज्यादा चिंतित हैं. अगर एक भी मामला सामने आ जाता है तो आईपीएल बरबाद हो सकता है. ’

वाडिया ने कहा कि जून में पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई झड़प के बाद आईपीएल को धीरे धीरे चीनी प्रायोजक से अलग हो जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो चीनी कंपनी की जगह लेने के लिये काफी प्रायोजक मौजूद हैं.

आईपीएल को सफल बनाना है प्रयोजकों का काम
मौजूदा आर्थिक माहौल में वाडिया को उम्मीद है कि प्रायोजक जुड़ने के लिये कड़ी मेहनत करेंगे, भले ही टीम प्रायोजक हों या फिर आईपीएल प्रायोजक. उन्होंने कहा, ‘सभी प्रायोजक कड़ी मेहनत करेंगे लेकिन यह आईपीएल सबसे ज्यादा देखा जायेगा, मुझे पूरा भरोसा है. मेरी बात को याद रखिये. इस साल अगर प्रायोजक आईपीएल का हिस्सा नहीं होंगे तो यह काफी मूर्खतापूर्ण होगा. ’

बीसीसीआई ने टीमों को 16 पेज की मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) भेजी है ताकि टूर्नामेंट का आयोजन अच्छी तरह से हो सके, जिसमें खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, टीम अधिकारियों और मालिकों को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहना होगा. वाडिया ने आईपीएल के लिये संयुक्त अरब अमीरात जाने पर फैसला नहीं किया है लेकिन कहा कि सुरक्षा से समझौता नहीं किया जा सकता.

IPL-13 में अलग-अलग रहेंगी 8 टीमें, UAE जाने के लिए रखी गई ये शर्त

बीसीसीआई ने जारी किया है सख्त एसओपी
बीसीसीआई (SOP) के एसओपी के मुताबिक जो भी व्यक्ति कोरोना वायरस (Covid-19) पॉजिटिव पाया जाएगा उसे पृथकवास आइसोलेशन से गुजरना होगा और 14 दिन के बाद उस व्यक्ति को 24 घंटे के अंतर पर दो कोविड-19 टेस्ट कराने होंगे. अगर दोनों परीक्षण के नतीजे नेगेटिव आते हैं तो उस व्यक्ति को यूएई (UAE) से जाने की इजाजत होगी. ये नियम सभी विदेशी खिलाड़ियों और टीम सहयोगी स्टाफ पर भी लागू होंगे. यूएई पहुंचने के बाद पहले, तीसरे और छठे दिन परीक्षण होंगे और फिर टूर्नामेंट के दौरान हर पांचवें दिन परीक्षण किया .

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here