हनी ट्रैपिंग गिरोह के चार सदस्य पुलिस की गिरफ्त में, अपनी ही नाबालिग बेटी का करते थे इस्तेमाल ! | kurukshetra – News in Hindi

0
6
हनी ट्रैपिंग गिरोह के चार सदस्य पुलिस की गिरफ्त में, अपनी ही नाबालिग बेटी का करते थे इस्तेमाल !

घर वाले ही करते थे अपनी नाबालिग बेटी का हनी ट्रैप के लिए इस्तेमाल (Photo-pixabay)

नाबालिग लड़की ने भी अदालत में स्वीकार किया है कि उसके परिवार वाले उसको गलत काम करने के लिए मजबूर करते थे और मामला दर्ज करवा कर उनसे मोटी रकम लेते थे. इससे पूर्व भी दो बार उसके पिता, चाचा व ताऊ मोटी रकम लेकर समझौता कर चुके हैं.

कुरुक्षेत्र. हरियाणा पुलिस (Haryana Police) ने हनी ट्रैपिंग (Honey trapping) गिरोह के चार सदस्यों को किया गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई है. इस गिरोह को पकड़ने के बाद पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. ये गिरोह पहले अपनी नाबालिग लड़की से देह व्यापार करवाता था उसके बाद ब्लैक मेल कर मोटी रकम भी ऐंठता था. सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि पकड़े गए लोग नाबालिग लड़की के सगे घर वाले हैं. लड़की का भी बयान है कि घर वाले उस से जबरदस्ती ये गंदा काम करवाते थे.

पुलिस को हुआ शक, फिर हुआ खुलासा
इस मामले पर बोलते हुए डीएसपी राजकुमार ने कहा कि गत 15 जून 2020 को थाना केयुके में एक मामला दर्ज हुआ कि एक नाबालिग लड़की को मामचन्द आजाद नगर वासी शादी करने की नियत से बहला-फुसला कर ले गया है. जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू की तो चौंकाने वाले तथ्य सामने आए और मामला हनी ट्रैपिंग की दिशा में जाता दिखा. पुलिस को इस बात के पुख्ता सबूत मिले कि शिकातकर्ता का परिवार आपस में मिली-भगत करके नाबालिग लड़की से देह व्यापार करवा कर फिर मामला दर्ज करवा देता था. बाद में आरोपियों से समझौता करने के नाम पर मोटी रकम ऐंठता था.
ये भी पढ़ें- जमानत पर छूटे हत्यारोपी की गोली मारकर हत्या, परिजनों ने लगाया ये आरोप, जांच में जुटी पुलिस

नाबालिग लड़की ने भी अदालत में स्वीकार किया है कि उसके परिवार वाले उसको गलत काम करने के लिए मजबूर करते थे और मामला दर्ज करवा कर उनसे मोटी रकम लेते थे. इससे पूर्व भी दो बार उसके पिता, चाचा व ताऊ मोटी रकम लेकर समझौता कर चुके हैं. पुलिस ने लड़की के पिता व चाचा को पूछताछ के रिमांड पर लिया है. मामले की तफ्तीश की जा रही है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here