आईपीएल 2020 की प्रायोजक नहीं रही चीनी कंपनी वीवो, करार सस्पेंड | cricket – News in Hindi

0
8
आईपीएल 2020 की प्रायोजक नहीं रही चीनी कंपनी वीवो, करार सस्पेंड

वीवो नहीं रही आईपीएल 2020 की प्रायोजक

सीमा पर चीन से विवाद के बाद बीसीसीआई और चीनी कंपनी वीवो (VIVO IPL) ने आपसी सहमति से आईपीएल 2020 का करार सस्पेंड कर दिया है.

नई दिल्ली. लद्दाख सीमा पर भारत और चीन के बीच तनाव का असर आईपीएल 2020 पर भी पड़ा है. बीसीसीआई और चीनी कंपनी ने साल 2020 के लिए अपना करार सस्पेंड कर दिया है. मतलब आईपीएल 2020 के लिए वीवो आईपीएल की मुख्य प्रायोजक नहीं होगी. खबरों के मुताबिक बीसीसीआई और चीनी कंपनी वीवो ने आपसी सहमति से इस करार को एक साल के लिए सस्पेंड किया है. बता दें बीसीसीआई को वीवो से सालाना 440 करोड़ रुपये मिलते थे जिसके साथ उसका करार 2022 में खत्म होने वाला था.

दबाव में करार हुआ सस्पेंड!
बीसीसीआई चीनी कंपनी वीवो के साथ करार सस्पेंड करने के मूड में नहीं थी. जून में उसके कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा था कि बीसीसीआई का वीवो के साथ करार तोड़ने का कोई इरादा नहीं है. उन्होंने दलील दी थी कि चीनी कंपनी से आ रहे पैसे की वजह से हिंदुस्तान को ही फायदा हो रहा है ना कि चीन को. बीते रविवार हुई आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में भी वीवो को आईपीएल का मुख्य प्रायोजक बरकरार रखा गया था. हालांकि इसके बाद स्वदेशी जागरण मंच और व्यापारी संघ ने बीसीसीआई के इस फैसले का विरोध किया और इस संबंध में गृह मंत्री अमित शाह को भी खत लिखा.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here