सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में दो जनहित याचिकाएं दायर | mumbai – News in Hindi

0
6
सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में दो जनहित याचिकाएं दायर

सुप्रीम कोर्ट.

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Suicide Case) की घटना की सीबीआई (CBI) से जांच के लिए मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में दो जनहित याचिकाएं दायर की गईं. सुशांत 14 जून को मुंबई के उपनगर बांद्रा में अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे.

नई दिल्ली. एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Suicide Case) की घटना की सीबीआई से जांच के लिए मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court ) में दो जनहित याचिकाएं दायर की गईं. सुशांत 14 जून को मुंबई के उपनगर बांद्रा में अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे. बिहार की नीतीश सरकार द्वारा सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई (CBI) जांच के लिए मंगलवार को केन्द्र से सिफारिश किए जाने के दौरान ही बीजेपी नेता और अधिवक्ता अजय कुमार अग्रवाल (Ajay Kumar Aggarwal) और मुंबई निवासी कानून के छात्र द्विवेन्द्र देवतादीन द्विवेदी (Dwivedra Devtadin Dwivedi) ने ये जनहित याचिकाएं दायर की हैं.

अजय अग्रवाल ने सुशांत सिंह राजपूत की असमय मृत्यु के कारकों की जांच सीबीआई से कराने का निर्देश देने का अनुरोध किया है. अग्रवाल लंबे समय से राजनीतिक दृष्टि से संवेदनशील बोफोर्स तोप सौदा दलाली कांड को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सक्रिय हैं. अग्रवाल ने याचिका में कहा है, ‘बॉलीवुड के उभरते सितारे सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को संदिग्ध परिस्थितियों में मुंबई में अपने घर में मृत मिले थे. मुंबई पुलिस ने तत्काल ही इसे आत्महत्या का मामला घोषित कर दिया लेकिन ‘एम एस धोनी’ फिल्म में मुख्य किरदार की भूमिका निभाने वाले सुशांत के आत्महत्या करने की बात किसी के गले नहीं उतर रही है.’

सोनिया गांधी के खिलाफ रायबरेली सीट से चुनाव लड़ चुके हैं अजय कुमार अग्रवाल
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ रायबरेली सीट पर भाजपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ चुके अग्रवाल ने सुशांत सिंह राजपूत के साथ ‘लिव इन’ में रहने वाली रिया चक्रवती द्वारा उसके बैंक खाते से कथित रूप से कुल 15 करोड़ रुपए निकाले जाने की खबरों का हवाला भी याचिका में दिया गया है.कानून के छात्र द्विवेन्द्र ने भी सुशांत सिंह राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिंह द्वारा पटना के राजीव नगर थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी सीबीआई या एनआईए को सौंपने का अनुरोध किया है ताकि इस मामले की ‘निष्पक्ष, प्रभावी और तत्परता’ से जांच सुनिश्चित की जा सके. हालांकि, इस मामले में यह तथ्य भी महत्वपूर्ण है कि सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच मुंबई पुलिस से लेकर सीबीआई को सौंपने के लिए दायर एक जनहित याचिका सुप्रीम कोर्ट ने 30 जुलाई को खारिज कर दी थी. प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने याचिकाकर्ता से कहा था कि अगर आपके पास कुछ पुख्ता तथ्य हैं तो आप बंबई हाईकोर्ट जाएं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here