भूमि पूजन के बाद बोले विजयन- बाबरी विध्वंस की जिम्मेदार कांग्रेस भी, प्रियंका के बयान से हैरानी नहीं | nation – News in Hindi

0
6
भूमि पूजन के बाद बोले विजयन- बाबरी विध्वंस की जिम्मेदार कांग्रेस भी, प्रियंका के बयान से हैरानी नहीं

केरल के CM विजयन कांग्रेस पर खूब बरसे (फाइल फोटो)

केरल के CM पिनराई विजयन (Pinarayi Vijayan) ने यह भी कहा कि मुझे प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के बयान पर आश्चर्य नहीं है. हम जानते हैं कि हर समय कांग्रेस का क्या रुख था. राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) और नरसिम्हा राव का रुख क्या था.

तिरुवनंतपुरम. अयोध्या (Ayodhya) को लेकर सीपीआईएम पोलित ब्यूरो (CPIM polit bureau) ने अपना पक्ष सामने रखा है. अयोध्या मसले पर बात करते हुए केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (Kerala CM Pinarayi Vijayan) ने कहा है कि आज कोविड-19 (Covid-19) के आंकड़े दिखाते हैं कि देश 19 लाख मामलों का आंकड़ा पार कर चुका है. हमें यह सोचना चाहिए कि यह कैसे खत्म हो.

विजयन ने यह भी कहा कि ऐसे लोग हैं जो संकट (crisis) के कारण गरीबी (poverty) की ओर धकेल दिए गए हैं. इस पर काबू पाने के लिए क्या करना चाहिए, इसके बारे में सोचें. बाकी चीजें हम बाद में हम देख सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि मुझे प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के बयान पर आश्चर्य नहीं है. हम जानते हैं कि हर समय कांग्रेस का क्या रुख था. राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) और नरसिम्हा राव का रुख क्या था.

कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता की अवधारणा स्पष्ट होती तो यह स्थिति भारत के लिए नहीं आई होती
केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा, यदि कांग्रेस की धर्मनिरपेक्षता की अवधारणा स्पष्ट होती तो यह स्थिति भारत के लिए नहीं आई होती. नरम हिंदुत्व वह रणनीति है, जो कांग्रेस ने हमेशा अपनाई.वे यह भी बोले, “जब संघ परिवार ने बाबरी मस्जिद का विध्वंस किया तब कांग्रेस ने अपनी आंखें मूंद ली थीं. जब यह सब हो रहा था, तब मुस्लिम लीग तक कांग्रेस के साथ थी.”

केरल के सीएम विजयन ने बाबरी मस्जिद प्रकरण के लिए कांग्रेस को ठहराया दोषी
केरल के मुख्यमंत्री विजयन ने यह भी पूछा कि बाबरी मस्जिद में पूजा की अनुमति किसने दी थी. वह कांग्रेस थी. किसने वहां मूर्ति लगाने की अनुमति दी? वह भी कांग्रेस की सरकार थी.

यह भी पढ़ें: राम मंदिर केस जीतने वाले वकील ने भूमिपूजन देख कहा- 30 साल का संघर्ष पूरा हुआ

उन्होंने जोड़ा, “इन सबसे ऊपर, जब संघ परिवार ने इसे गिराने के लिए बाबरी मस्जिद का रुख किया, जिसने इसकी ओर से आंखें फेर ली थीं, वे कांग्रेस के पीएम नरसिम्हा राव थे.”

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here