बांद्रा पुलिस के संपर्क में थे सुशांत के जीजा, फरवरी में हुई थी बात, सामने आई चैट | bollywood – News in Hindi

0
5
 सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद मुंबई पुलिस लगातार मामले की जांच कर रही है. करीब 40 दिनों को पूछताछ के बाद भी पुलिस को हाथ कोई ठोस सबूत हाथ नहीं लगा है. सुशांत की मौत के मामले में कई बड़े एक्टर, प्रोड्यूसर और डॉयरेक्टर्स से पूछताछ हो चुकी है लेकिन डेढ़ महीने के बाद भी अब तक पुलिस की जांच किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है.

सुशांत सिंह राजपूत

सुशांत के जीजा (Brother-in-law ) ओपी सिंह (OP Singh) की सुशांत के हुई चैट वायरल होने के बाद मुंबई के जोन-9 के एक्स डीसीपी परमजीत सिंह दहिया (Paramjit Singh Dahiya) के बीच की व्हाट्सएप चैट सामने आ गई है जिसमें सुशांत को लेकर बात हुई है.

मुंबई. बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत मामले में एक्टर के परिवार ने पटना के राजीव नगर थाने में शिकायत दर्ज कराई है. एक्टर के परिवार द्वारा शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद से ही मामले में हर दिन नए ट्विस्ट आ रहे हैं. हाल ही में सुशांत सिंह के पिता का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हुआ, जिसमें वो कहते दिखाई दे रहे हैं कि उन्होंने पहले ही पुलिस को बताया था कि सुशांत की जान खतरे में है. वहीं मुंबई पुलिस ने इस मामले पर कह दिया है कि किसी भी तरह का एक्शन लेने के लिए लिखित रूप से देना पड़ता है और उन्हें कोई लिखित कम्प्लेन नहीं मिली. सुशांत के जीजा (Brother-in-law ) ओपी सिंह (OP Singh) की सुशांत के हुई चैट वायरल होने के बाद मुंबई के जोन-9 के एक्स डीसीपी परमजीत सिंह दहिया (Paramjit Singh Dahiya) के बीच की व्हाट्सएप चैट सामने आ गई है जिसमें सुशांत को लेकर बात हुई है.

सुशांत के जीजा (Sushant’s Brother-in-law) और मुंबई के जोन-9 के एक्स डीसीपी परमजीत सिंह दहिया (Paramjit Singh Dahiya)के बीच फरवरी में जो बात हुई, उसमें सामने आया है कि सुशांत का परिवार मुंबई पुलिस से चाहता था कि वे सिद्धार्थ पिठानी के टच में रहें ताकि सुशांत से संपर्क किया जा सके. इंडिया टुडे की एक खबर के मुताबिक, सुशांत ने फोन उठाना बंद कर दिया था और उनसे संपर्क न हो पाने की वजह से घरवाले परेशान थे.

ओपी सिंह ने जो पूर्व डीसीपी जोन 9 परमजीत सिंह दहिया को मैसेज किए हैं, उसमें कहा कि कुछ अज्ञात कारणों की वजह से सुशांत अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ संवाद नहीं कर रहा है.

दरअसल, सुशांत के जीजा परमजीत सिंह दहिया को जानते थे और यही वजह थी कि वह उनसे सुशांत की परेशानी और परिवार की मदद के लिए बातचीत कर रहे थे. मुंबई पुलिस आयुक्तालय के जोन 9 में बांद्रा, अंधेरी, वर्सोवा, खार, सांताक्रूज, जुहू और ओशिवारा जैसे प्रमुख उपनगरीय क्षेत्र शामिल हैं. सुशांत बांद्रा में रह रहा था जो बांद्रा पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र में था.मैसेज में लिखा है, ‘मेरी पत्नी श्रीमती नीतू सिंह के नाम पर सुइट बुक किया गया है. संभव हो तो चेक इन, upragdation और वैल्यू एडिशन के लिए अनुरोध है. इस पर दहिया ने जवाब दिया और उनसे कार का नंबर मांगा.

ये भी पढ़ें- जब सुशांत के जीजाजी ने कहा था- ‘मेरी पत्नी को अपनी प्रॉब्लम से दूर रखो’, सिद्धार्थ पिठानी ने शेयर किए ‘मैसेज’

मैसेज में लिखा था कि- हम एसएचओ से ये चाहते हैं कि वे सुशांत सिंह राजपूत के मैनेजर सिद्धार्थ पिठानी से संपर्क बना कर रखें. परमजीत सिंह दहिया से पिठानी के ड्राइवर की डिटेल्स भी लीं.

परिवार ने आरोप लगाया है कि उन्होंने 25 फरवरी को बांद्रा पुलिस से संपर्क किया और सूचित किया कि सुशांत की जान खतरे में हो सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक, इन मैसेजों को सबसे पहले दहिया को भेजा गया था और उन्हें पिठानी से संपर्क करने के लिए कहा गया था क्योंकि सुशांत परिवार के साथ बातचीत नहीं कर रहा था. ये संदेश तब भेजे गए थे जब ओपी सिंह फरवरी में मुंबई आए थे और वह सुशांत से नहीं मिल सके थे. यहीं पर उन्हें इस बात का अंदेशा हुआ की सुशांत के साथ सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here