केरल के 2 वृद्धाश्रमों में मिले 95 कोरोना पॉजिटिव, सख्‍त किए गए नियम | nation – News in Hindi

0
5
केरल के 2 वृद्धाश्रमों में मिले 95 कोरोना पॉजिटिव, सख्‍त किए गए नियम

वृद्धाश्रम में फैल रहा कोरोना वायरस.

एक हफ्ते में केरल (Kerala) के तिरुवनंतपुरम और एर्नाकुलम में ओल्‍ड एज होम (Old Age home) में रह रहे तीन लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है

नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के रोजाना रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच कुछ राज्‍यों में भी इस जानलेवा महामारी से हालात चिंताजनक हैं. केरल में भी ऐसी ही स्थिति है. अब केरल (Kerala) के दो ओल्‍ड एज होम या वृद्धाश्रम (Old Age Home) में 95 लोगों के कोरोना वायरस संक्रमित पाए जाने से हड़कंप मचा हुआ है. इन मामलों के सामने आने के बाद राज्‍य सरकार ने राज्‍य में स्थित 577 ओल्‍ड एज होम के लिए कुछ नियमों में सख्‍ती कर दी है.

जानकारी के मुताबिक पिछले एक हफ्ते में तिरुवनंतपुरम और एर्नाकुलम में ओल्‍ड एज होम में रह रहे तीन लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो चुकी है. इसके बाद यहां रह रहे अन्‍य लोगों की जांच की गई तो कोरोना वायरस के बड़ी संख्‍या में मामले सामने आए. तिरुवनंतपुरम के ओल्‍ड एज होम में कुल 35 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.

इस पर राज्‍य की स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री केके शैलजा का कहना है कि ओल्‍ड एज होम में सरकार की ओर से दिए गए सुझाव नहीं माने गए. इनमें यह सुझाव भी था कि किसी भी संदिग्‍ध व्‍यक्ति को कोरोना वायरस से ग्रस्‍त होने से पहले ही तुरंत आइसोलेट कर दिया जाए. उनका कहना है कि सरकार की ओर से सभी वृद्धाश्रमों को बाहर से पूरी तरह से अलग रहने को कहा गया है. इन वद्धाश्रम में रह रहे लोग बाहर ना जाएं और कोई भी बाहरी व्‍यक्ति अंदर ना जाए. संस्थानों को यह सुनिश्चित करना है कि वृद्धाश्रम में रह रहे लोगों में कोरोना वायरस का प्रसार ना हो. दिशानिर्देशों का उल्लंघन होने पर इन संस्‍थानों के अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री का कहना है कि इन वृद्धाश्रमों में सिर्फ एक व्‍यक्ति को ही बाहर जाने दिया जाएगा. लेकिन वह दूसरे लोगों से संपर्क नहीं कर सकेगा. उनके अनुसार दोनों ही वृद्धाश्रमों में कोरोना वायरस बाहर गए लोगों के जरिये अंदर आया. राज्‍य में 16 सरकारी और 561 निजी वृद्धाश्रम हैं. उनमें रह रहे अधिकांश लोग पहले से बीमार हैं. ऐसे में उन्‍हें कोरोना वायरस का खतरा अधिक है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here