If the opposition rallies, then immediately flout the FIR and ruling rules, then no action is taken. | विपक्ष रैली करे तो तत्काल एफआईआर और सत्ता पक्ष वाले नियमों की धज्जियां उड़ाएं तो कोई कार्रवाई नहीं होती

0
15
comScore


हाईकोर्ट के बाहर पत्रकारों से अनौपचारिक चर्चा में प्रदेश के पूर्व मंत्री गोविन्द सिंह नेे सरकार पर साधा निशाना
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
मध्य प्रदेश की सियासत में जुबानी जंग का दौर लगातार जारी है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ याचिका दायर करने के लिए जबलपुर पहुंचे पूर्व मंत्री गोविंद सिंह ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के दौर में किसी भी मुद्दे को लेकर यदि विपक्ष कोई रैली करता है तो उनके खिलाफ तत्काल एफआईआर हो जाती है। वहीं सत्ता पक्ष के लोग लगातार नियमों की धज्जियां उड़ा रहे, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती।
हाईकोर्ट परिसर के बाहर पत्रकारों से चर्चा करते हुए श्री सिंह ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी में जा रहे हैं विधायकों पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग राजनीति को बिकाऊ और व्यवसाय बना रहे हैं उनको जनता जवाब देगी। आज राजनीति का स्तर लगातार गिरता जा रहा है नेता जनता से वोट लेकर सत्ता में आते हैं और नीलाम हो जाते हैं। ऐसे नेताओं को जनता दूसरी बार मौका नहीं देगी। राजस्थान में जारी सियासी घमासान को लेकर पूछे गए सवाल पर श्री सिंह ने कहा कि वहां के राज्यपाल पूरी तरह से भाजपा के इशारों पर ही काम कर रहे हैं। यही वजह से है कि राजस्थान में राज्यपाल के पद की गरिमा खत्म हो गई है। चर्चा के दौरान श्री सिंह के साथ विधायक संजय यादव और कांग्रेस लीगल सेल के अध्यक्ष ब्रजेश दुबे भी मौजूद थे।
 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here