भारतीयों के लिए खुशखबरी! UAE में अब दो दिनों के अंदर होगा पासपोर्ट का नवीनीकरण | middle-east – News in Hindi

0
9
भारतीयों के लिए खुशखबरी! UAE में अब दो दिनों के अंदर होगा पासपोर्ट का नवीनीकरण

कॉन्सेप्ट इमेज.

दुबई में महावाणिज्य दूत डॉ. अमन पुरी ने अखबार से कहा कि पासपोर्ट (Passport) नवीनीकरण फॉर्म पर उसी दिन काम शुरू कर दिया जाएगा. पुरी ने कहा कि कुछ आवेदनों की प्रक्रिया में लंबा समय लग सकता है.

दुबई. संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में भारतीय प्रवासी अब महज दो दिनों के अंदर अपने पासपोर्ट (Passport) का नवीनीकरण करा सकेंगे. इसके लिए नई संचालन प्रक्रिया अगस्त से शुरू होने जा रही है. ‘गल्फ न्यूज’ ने खबर दी कि दुबई में भारतीय दूतावास यूएई में रह रहे भारतीय प्रवासियों के पासपोर्ट आवेदन स्वीकार कर सकेगा. इससे पहले प्रत्येक अमीरात के अलग सत्यापन केंद्र होते थे. दुबई में महावाणिज्य दूत डॉ. अमन पुरी ने अखबार से कहा कि पासपोर्ट नवीनीकरण फॉर्म पर उसी दिन काम शुरू कर दिया जाएगा. पुरी ने कहा कि कुछ आवेदनों की प्रक्रिया में लंबा समय लग सकता है. उन्होंने कहा, ‘इनमें कुछ ज्यादा समय लग सकता है, औसत दो हफ्ते का, अगर इसमें पुलिस सत्यापन या भारत से किसी अन्य मंजूरी की जरूरत पड़ी तो.’ भारतीय दूतावास ने पिछले वर्ष यहां दो लाख से अधिक पासपोर्ट जारी किए थे, जो दुनिया भर के सभी भारतीय दूतावासों में सर्वाधिक थे.

इससे पहले खबर आई थी कि दुबई स्थित भारतीय महावाणिज्य दूतावास एक अगस्त से 31 दिसंबर तक रोजाना, सप्ताहांत और अवकाश के दिन भी खुला रहेगा ताकि इस कोरोना वायरस महामारी के दौरान आपात स्थिति में यहां रहने वाले भारतीयों की मदद की जा सके. खलीज टाइम्स में सोमवार को आई खबरों के अनुसार, 19 जुलाई को दुबई स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास का प्रभार संभालने वाले डॉक्टर अमन पुरी ने कहा कि आपात स्थिति में यात्रा करने के लिए पासपोर्ट नवीनीकरण सहित अन्य आपात सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी.

ये भी पढ़ें: दुबई स्थित भारतीय महावाणिज्य दूतावास में अब अवकाश के दिन भी होगा काम

‘लोगों को हमारी जरूरत’अखबार के अनुसार, पुरी ने कहा, ‘एक अगस्त से 31 दिसंबर तक वाणिज्य दूतावास अवकाश के दिन सुबह आठ बजे से 10 बजे तक (दो घंटे के लिए) खुलेगा. हमें लगता है कि आने वाला समय और मुश्किल होगा और लोगों को हमारी जरूरत होगी.’ लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि परिस्थितियों के आधार पर मिशन को रोज खुला रखने के फैसले की समीक्षा की जा सकती है. उन्होंने कहा कि हमारे कर्मचारियों और मिशन ने हमेशा आगे बढ़कर संकट में भारतीयों की मदद की है. उन्होंने कहा, ‘चूंकि यहां भारतीयों की संख्या ज्यादा है, ऐसे में जरुरतें भी ज्यादा हैं.’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here