Sushant Singh Rajput death case: केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने की CBI जांच की मांग | patna – News in Hindi

0
5
 सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद मुंबई पुलिस लगातार मामले की जांच कर रही है. करीब 40 दिनों को पूछताछ के बाद भी पुलिस को हाथ कोई ठोस सबूत हाथ नहीं लगा है. सुशांत की मौत के मामले में कई बड़े एक्टर, प्रोड्यूसर और डॉयरेक्टर्स से पूछताछ हो चुकी है लेकिन डेढ़ महीने के बाद भी अब तक पुलिस की जांच किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है.

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में CBI जांच की लगातार मांग कर रहे नेता . (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने पुलिस जांच पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘इस मामले में जांच को लेकर बिहार पुलिस और महाराष्ट्र पुलिस के बीच कंफ्रंटेशन भी हो रहा है, तो फिर जांच क्या होगी? इसलिए सीबीआई जांच होनी चाहिए.’

नई दिल्ली/पटना. फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत हत्या (Murder) है या आत्महत्या (Suicide) ये पहेली दिनों-दिन उलझती जा रही है. सुशांत सिंह राजपूत की मौत कैसे हुई? इस सवाल को लेकर सियासी हलकों में भी बवाल मचा हुआ है. अब केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान Ram Vilas Paswan ने भी इस मामले में सीबीआई (CBI) जांच की मांग की है इससे पहले भाजपा के लोनी विधायक समेत बीजेपी, लोजपा, कांग्रेस व अन्य पार्टियों के कुछ नेताओं ने भी सुशांत सिंह राजपुत की मौत की सीबीआई जांच की मांग की थी.

सबसे पहले चिराग पासवान ने CBI जांच की मांग की!
सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले पर News 18 से बात करते हुए केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने पुलिस जांच पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘इस मामले में जांच को लेकर बिहार पुलिस और महाराष्ट्र पुलिस के बीच कंफ्रंटेशन भी हो रहा है, तो फिर जांच क्या होगी? इसलिए सीबीआई जांच होनी चाहिए.’ पासवान ने कहा कि सीबीआई जांच से ही सच्चाई सामने आ सकती है, लिहाजा इसमें देरी नहीं होनी चाहिए. पासवान ने कहा कि ‘सबसे पहले इस मामले को उनकी पार्टी (लोक जन शक्ति पार्टी ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने ही उठाया था और सबसे पहले सीबीआई जांच की मांग की थी. इसके लिए चिराग ने दो-दो बार महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी बात की थी. केंद्रीय मंत्री ने इस पूरे मामले में बिहार पुलिस की भूमिका पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा कि बिहार पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज नहीं की बल्कि, सुशांत सिंह के पिता ने एफआईआर दर्ज करवाई किया है’.

नितीश कुमार की खामोशी पर सवालगौरतलब है कि एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. चिराग ने मुख्यमंत्री की खामोशी पर सवाल खड़ा किया है. लेकिन अब चिराग के बाद उनके पिता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का भी बड़ा बयान सामने आया है. एलजेपी के अलावा बीजेपी और जेडीयू समेत दूसरे दलों की तरफ से भी सीबीआई जांच की मांग अब जोर पकड़ने लगी है. पहले बीजेपी के औरंगाबाद से सांसद सुशील कुमार सिंह ने सीबीआई जांच की मांग की, फिर बीजेपी के ही दूसरे सांसद अजय निषाद ने इस मामले में गृह-मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखकर सीबीआई जांच की मांग की है. जेडीयू की तरफ से भी राज्य सरकार में मंत्री माहेश्वर हजारी की तरफ से सीबीआई जांच की मांग की जा रही है.

ये भी पढ़ें- सुशांत सिंह राजपूत का परिवार पैसों पर कर रहा फोकस, गुम हो गया नेपोटिज्म का मुद्दा : कंगना रनौत

कांग्रेस ने कहा खुद प्रधानमंत्री को CBI जांच की पहल करनी चाहिए
उधर कांग्रेस के बिहार से राज्य सभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने इस मामले में एनसीपी प्रमुख शरद पवार से बात की है. अखिलेश सिंह ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा कि वे इस मामले में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी बात करेंगे. हालाकि उन्होंने मांग की है कि इस मामले में खुद प्रधानमंत्री को पहल कर सीबीआई जांच करानी चाहिए या फिर सुप्रीम कोर्ट या हाई कोर्ट के किसी सीटिंग जज से जांच कराई जानी चाहिए. हालांकि राजनीतिज्ञों की फिल्म अभिनेता की मौत के मामले में इतनी दिलचस्पी को लेकर तमाम सवाल भी उठाये जा रहे हैं और इसे बिहार विधानसभा के आगामी चुनाव से भी जोड़ कर देखा जा रहा है. हालांकि वजह कुछ भी हो दिवंगत अभिनेता को न्याय मिले ये सभी चाहते हैं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here