Rajasthan Police Not Allowed To Enter Haryana Hotels To Deliver Notices To Dissident Congress Mlas – कांग्रेस विधायकों को नोटिस देने पहुंची राजस्थान पुलिस को हरियाणा के होटलों में नहीं मिला प्रवेश

0
8
Rajasthan Police Not Allowed To Enter Haryana Hotels To Deliver Notices To Dissident Congress Mlas - कांग्रेस विधायकों को नोटिस देने पहुंची राजस्थान पुलिस को हरियाणा के होटलों में नहीं मिला प्रवेश

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

राजस्थान पुलिस के एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) की एक टीम को हरियाणा के तीन होटलों में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई। गुरुग्राम और मानेसर स्थिति इन तीन होटलों में कथित तौर पर राजस्थान कांग्रेस के असंतुष्ट विधायक ठहरे हुए हैं। पुलिस टीम शुक्रवार को दो विधायकों को भ्रष्टाचार के एक मामले में नोटिस देने गई थी। 

एंटी करप्शन ब्यूरो ने विधायक भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह के खिलाफ नोटिस जारी किया था। इन दोनों को कांग्रेस ने राज्य में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार को गिराने की कथित साजिश में शामिल होने के आरोप में पार्टी से निलंबित कर दिया है। उन्हें ब्यूरो ने जांच के लिये बुलाया था लेकिन दोनों ही उपस्थित नहीं हुए।

उप पुलिस अधीक्षक सालेह मोहम्मद के नेतृत्व में एसीबी की टीम दोनों विधायकों को नोटिस देने के लिए पहुंची थी। टीम उन हरियाणा के उन तीनों होटलों में पहुंची जहां इन दोनों विधायकों के साथ राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट समेत अन्य विधायकों के मौजूद होने की बात कही जा रही थी। 

पुलिस ने बताया कि हम विधायकों की खोज में होटल तक पहुंचे। इस दौरान दो होटलों ने हमें लिखित में दिया कि वे लोग उनके यहां नहीं ठहरे हुए हैं। जबकि, तीसरे होटल के अधिकारियों ने होटल बंद होने की बात रही। पुलिस को होटल के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई।

बता दें कि एसीबी ने राज्य में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को गिराने के लिए किए जा रहे कथित षडयंत्र की बातचीत के तीन ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद 17 जुलाई को सरकार के मुख्य सचेतक की शिकायत पर भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया।

 

राजस्थान पुलिस के एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) की एक टीम को हरियाणा के तीन होटलों में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई। गुरुग्राम और मानेसर स्थिति इन तीन होटलों में कथित तौर पर राजस्थान कांग्रेस के असंतुष्ट विधायक ठहरे हुए हैं। पुलिस टीम शुक्रवार को दो विधायकों को भ्रष्टाचार के एक मामले में नोटिस देने गई थी। 

एंटी करप्शन ब्यूरो ने विधायक भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह के खिलाफ नोटिस जारी किया था। इन दोनों को कांग्रेस ने राज्य में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार को गिराने की कथित साजिश में शामिल होने के आरोप में पार्टी से निलंबित कर दिया है। उन्हें ब्यूरो ने जांच के लिये बुलाया था लेकिन दोनों ही उपस्थित नहीं हुए।

उप पुलिस अधीक्षक सालेह मोहम्मद के नेतृत्व में एसीबी की टीम दोनों विधायकों को नोटिस देने के लिए पहुंची थी। टीम उन हरियाणा के उन तीनों होटलों में पहुंची जहां इन दोनों विधायकों के साथ राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट समेत अन्य विधायकों के मौजूद होने की बात कही जा रही थी। 

पुलिस ने बताया कि हम विधायकों की खोज में होटल तक पहुंचे। इस दौरान दो होटलों ने हमें लिखित में दिया कि वे लोग उनके यहां नहीं ठहरे हुए हैं। जबकि, तीसरे होटल के अधिकारियों ने होटल बंद होने की बात रही। पुलिस को होटल के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई।

बता दें कि एसीबी ने राज्य में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को गिराने के लिए किए जा रहे कथित षडयंत्र की बातचीत के तीन ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद 17 जुलाई को सरकार के मुख्य सचेतक की शिकायत पर भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया।

 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here