गहलोत सरकार ने विश्व आदिवासी दिवस पर राज्य में सार्वजानिक अवकाश का किया ऐलान | jaipur – News in Hindi

0
4
गहलोत सरकार ने विश्व आदिवासी दिवस पर राज्य में सार्वजानिक अवकाश का किया ऐलान

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने
विश्व आदिवासी दिवस पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया

आदिवासी समाज से जुड़े विधायकों के अनुरोध पर राज्य सरकार ने यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया है. हालांकि इस बार 9 अगस्त को रविवार पड़ रहा है जो कि छुट्टी का ही दिन है. लेकिन आदिवासी समाज के प्रतिनिधि सरकार के इस निर्णय से खुश नजर आ रहे हैं.

जयपुर. 9 अगस्त को विश्व भर में आदिवासी दिवस मनाया जाता है. राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने विश्व आदिवासी दिवस (World tribal day) पर आदिवासी समाज की मांग पर राज्य में सार्वजनिक अवकाश  (public holiday) की घोषणा की है. बताया जा रहा है कि सीएम गहलोत ने आदिवासी समाज के प्रतिनिधियों के आग्रह पर ये बड़ा फैसला लिया है. जिसकी आधिकारिक तौर पर घोषणा कर दी गई है व आधिकारिक आदेश भी जारी कर दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें- Unlock 3.0: राजस्थान में अन्तर्राज्यीय आवागमन के लिए अब पास जरूरी नहीं, अभी बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज

इस बार 9 अगस्त को है रविवारबता दें कि राजस्थान राज्य में 9 अगस्त विश्व आदिवासी दिवस को राजकीय कैलेण्डर में ऐच्छिक अवकाश के तौर पर दर्ज किया गया था अब ऐच्छिक अवकाश को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया किया है. राज्य के सामान्य प्रशासन विभाग ने मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद आधिकारिक आदेश जारी कर दिए हैं. दरअसल जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री से आदिवासी दिवस पर सार्वजनिक अवकाश की मांग की थी. आदिवासी समाज से जुड़े विधायकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने कांग्रेस विधायक रामकेश मीणा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की और 9 अगस्त को सार्वजनिक अवकाश घोषित करने का अनुरोध किया था. आदिवासी समाज से जुड़े विधायकों के अनुरोध पर राज्य सरकार ने यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया है. हालांकि इस बार 9 अगस्त को रविवार पड़ रहा है जो कि छुट्टी का ही दिन है. लेकिन आदिवासी समाज सरकार के इस निर्णय से खुश नजर आ रहा है. बता दें कि देश भर की दो तिहाई आदिवासी जनजाति छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड, ओडिशा औरगुजरात में रहती है. राजस्थान राज्य में आदिवासी जनसंख्या का प्रतिशत ठीक-ठाक है.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here