आंध्र प्रदेश की होंगी ‘तीन राजधानी’, राज्‍यपाल ने जगन सरकार के प्‍लान को दी मंजूरी | nation – News in Hindi

0
5
आंध्र प्रदेश की होंगी

आंध्र प्रदेश के राज्यपाल ने वाईएस जगन की तीन राजधानी योजना को मंजूरी दी

जगनमोहन रेड्डी सरकार (Jagan Mohan Reddy Government) ने राज्य की तीन राजधानियां बनाने की योजना को आकार देने संबंधी विधेयक को आंध्र प्रदेश विधानसभा में पेश किया था. इसमें विशाखापट्टनम को कार्यकारी राजधानी, अमरावती को विधायी राजधानी और कुरनूल को न्यायिक राजधानी बनाए जाने का प्रस्ताव है.

आंध्र प्रदेश के राज्यपाल विश्वभूषण चंदन ने शुक्रवार को राज्‍य सरकार के तीन राजधानी वाले प्‍लान को मंजूरी दे दी है. इस साल की शुरूआत में जगनमोहन रेड्डी सरकार (Jagan Mohan Reddy Government) ने राज्य की तीन राजधानियां बनाने की योजना को आकार देने संबंधी विधेयक को आंध्र प्रदेश विधानसभा में पेश किया था. इसमें विशाखापट्टनम को कार्यकारी राजधानी, अमरावती को विधायी राजधानी और कुरनूल को न्यायिक राजधानी बनाए जाने का प्रस्ताव है. राज्यपाल विश्वभूषण चंदन ने एपी डिसेंट्रलाइजेशन और सभी क्षेत्रों के इनक्लूसिव डेवलपमेंट बिल 2020 और एपी कैपिटल रीजल डेवलपमेंट अथॉरिटी बिल 2020 को आज मंजूरी दे दी है.

आंध्र के सीएम जगन मोहन रेड्डी विधायिका कार्यपालिका और न्यायपालिका के लिए अलग-अलग राजधानी बनाना चाहते हैं. जगन मोहन ने इसके लिए अमरावती, विशाखापट्टनम और कुरनूल का चुनाव किया है. प्रस्ताव के मुताबिक, विशाखापट्टनम आंध्र प्रदेश की एग्जीक्यूटिव कैपिटल होगी. वहीं, कुरनूल को ज्यूडिशियल कैपिटल के तौर पर पहचान मिलेगी, जबकि अमरावती लेजिस्लेटिव कैपिटल होगी. तीन राजधानियों की बात पर सीएम रेड्डी का कहना है, ‘हमारे पास तीन अलग-अलग राजधानियां हो सकती हैं. दक्षिण अफ्रीका की तीन राजधानियां हैं. उनकी आवश्यकता है. हमें इन पर गंभीरता से सोचना चाहिए.’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here