Rajasthan Government Crisis Live Updates Rebel Mla Petitions In Rajasthan High Court Sog Ashok Gehlot Sachin Pilot Congress Bsp – राजस्थान संकट: सीएम गहलोत बोले, राजस्थान में खरीद-फरोख्त का ‘रेट’ बढ़ा

0
10
Rajasthan Government Crisis Live Updates Rebel Mla Petitions In Rajasthan High Court Sog Ashok Gehlot Sachin Pilot Congress Bsp - राजस्थान संकट: सीएम गहलोत बोले, राजस्थान में खरीद-फरोख्त का ‘रेट’ बढ़ा

राजस्थान में जारी सियासी उठापटक के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लिए बुधवार की रात राहत बनकर आई, क्योंकि राज्यपाल ने 14 अगस्त से विधानसभा सत्र शुरू करने की अनुमति दे दी। वहीं, अब सीएम गहलोत ने अपना पूरा ध्यान बहुमत साबित करने पर लगा दिया है। इसके लिए सीएम की अध्यक्षता में फेयरमोंट होटल में कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई। दूसरी तरफ, बसपा की तरफ से हाईकोर्ट में दायर याचिका पर सुनवाई हुई। जानिए हर अपडेट-

राजस्थान में खरीद-फरोख्त का ‘रेट’ बढ़ा: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि कल रात से जब से विधानसभा सत्र बुलाने की तिथि 14 अगस्त निर्धारित हुई है, तब से राज्य में खरीद-फरोख्त का ‘रेट’ बढ़ गया है। गहलोत ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि कल रात से जब से विधानसभा सत्र बुलाने की घोषणा हुई है, राजस्थान में खरीद-फरोख्त (विधायकों की) का ‘रेट’ बढ़ गया है। इससे पहले पहली किश्त 10 करोड़ और दूसरी किश्त 15 करोड़ रुपये थी। अब यह असीमित हो गई है। सब लोग जानते हैं कौन लोग खरीद-फरोख्त कर रहे हैं। 

गहलोत बोले, मजबूरी में बयान दे रही हैं मायावती

सीएम गहलोत ने बसपा प्रमुख मायावती पर हमला करते हुए कहा कि वह मजबूरी में बयान दे रही हैं। उनकी शिकायत वाजिब नहीं है। छह बसपा विधायक अपने विवेक से कांग्रेस में शामिल हुए हैं। गहलोत ने कहा, दो तिहाई बहुमत से कोई पार्टी टूट सकती है, अलग पार्टी बन सकती है, विलय कर सकती है दूसरी पार्टी में। यहां बसपा छह के छह विधायक मिल गए हैं तो मायावती की जो शिकायत है, वह वाजिब नहीं है क्योंकि मायावती के दो विधायक अगर अलग होते तो शिकायत हो सकती थी। 

मुख्यमंत्री ने कहा, उनके (बसपा) पूरे छह विधायक खुद अपने विवेक से हमारी पार्टी में शामिल हुए, उसके बाद कोई वाजिब शिकायत नहीं हो सकती। मेरा मानना है कि मायावती जो बयानबाजी कर रही हैं, वह भाजपा के इशारे पर कर रही हैं। भाजपा जिस प्रकार से सीबीआई, ईडी, आयकर विभाग का दुरुपयोग कर रही है, डरा रही है, धमका रही है सबको, आप देखो राजस्थान में क्या हो रहा है। मायावती भी डर रही हैं उससे, मजबूरी में वो बयान दे रही हैं। 

14 अगस्त तक विधायक होटल में रहेंगे

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक को लेकर बताया गया कि इसमें आगे के हालात को लेकर चर्चा की गई। इस बात पर भी चर्चा की गई है कि होटल में कितने दिन और रुकना है, क्योंकि विधानसभा सत्र से पहले रक्षाबंधन भी है।

वहीं, इस बैठक में शामिल सूत्रों ने बताया है कि सीएम अशोक गहलोत ने बैठक में विधायकों से कहा है कि उन्हें 14 अगस्त (विधानसभा सत्र की शुरुआत) तक जयपुर के होटल फेयरमोंट में रहना होगा। मंत्री अपने काम को पूरा करने के लिए सचिवालय का दौरा कर सकते हैं। 

संविधान मेरे लिए सर्वोच्च है, कहीं कोई दबाव नहीं- राज्यपाल कलराज मिश्र
केंद्र के दबाव में काम करने के कांग्रेस के आरोप पर राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा, संविधान मेरे लिए सर्वोच्च है, कहीं कोई दबाव नहीं। इसके अलावा राज्यपाल ने कहा, गहलोत सरकार को कोरोना महामारी से निपटने के लिए हरसंभव उपाय करने चाहिए और विकास कार्यों में तेजी लानी चाहिए।

 

 

सीएम गहलोत बोले, असंतुष्ट विधायक भी लें विधानसभा सत्र में भाग
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि, मैं अब भी चाहता हूं कि जो विधायक असंतुष्ट हैं, उन्हें भी विधानसभा सत्र में भाग लेना चाहिए क्योंकि वे कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर चुने गए हैं। यह सुनिश्चित करना मेरी जिम्मेदारी है कि वे जनता के सामने सरकार के साथ खड़े दिखाई दें। सीएम ने आगे कहा, मुझे खुशी है कि राज्यपाल ने आखिरकार विधानसभा सत्र को जल्द से जल्द बुलाने के मेरे अनुरोध को स्वीकार किया। क्योंकि और देरी होने से विधायकों की खरीद फरोख्त हो सकती थी। हर कोई जानता है कि विधायकों की खरीद फरोख्त हुई है, लेकिन यह हमें प्रभावित नहीं करेगा। हम अपना पूरा कार्यकाल पूरा करेंगे।
 

अब कोई दिक्कत नहीं, हमारे पास पूर्ण बहुमत है- प्रताप सिंह खाचरियावास
कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा, ‘गवर्नर साहब ने अब तारीख (14 अगस्त) दे दी है। अब कोई दिक्कत नहीं है। हमारे पास पूर्ण बहुमत है, विधानसभा का सत्र बुलाया जाएगा और अगर कोई भी आदमी सरकार के बहुमत को चुनौती देगा तो सच्चाई सामने आ जाएगी।’

हाईकोर्ट ने बसपा के छह विधायकों और स्पीकर को जारी किया नोटिस
राजस्थान उच्च न्यायालय ने कांग्रेस में विलय को लेकर बसपा के छह विधायकों और विधानसभा अध्यक्ष को नोटिस जारी किया। कोर्ट ने 11 अगस्त तक इसपर जवाब मांगा है। 
 

बसपा ने बुधवार को हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी
बसपा ने बुधवार को हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इस मामले में भाजपा विधायक मदन दिलावर भी फिर से हाईकोर्ट पहुंचे हैं। दोनों की याचिकाओं पर बुधवार को करीब 1 घंटे सुनवाई हुई। दूसरी तरफ, आज फिर इस मामले में सुनवाई शुरू हो गई है। 

विधानसभा अध्यक्ष ने दायर की विशेष अवकाश याचिका
राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट में ताजा विशेष अवकाश याचिका दायर की। यह याचिका राजस्थान हाईकोर्ट द्वारा सचिन पायलट और 18 अन्य विधायकों के खिलाफ स्पीकर को कार्रवाई नहीं करने के निर्देश को लेकर दायर की गई है।

यह लड़ाई हम जीतेंगे : अशोक गहलोत
गहलोत ने राज्य में जारी राजनीतिक गतिरोध की ओर संकेत करते हुए कहा कि यह लड़ाई हम जीतेंगे। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार स्थायी व मजबूत है। वह कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में पार्टी के नए प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा द्वारा पदभार ग्रहण करने के अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।

गहलोत ने कहा, ‘केंद्र सरकार के सहयोग से, भाजपा के षड्यंत्र से, धनबल के प्रयोग से राज्य की कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने का षड्यंत्र चल रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘यह जो माहौल बना है, उससे चिंता करने की जरूरत नहीं है। हमारी सरकार स्थायी और मजबूत है।’ 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here