वंदे भारत मिशन: 8.78 लाख से अधिक भारतीय स्वदेश लौटे, 1 अगस्त से पांचवा चरण | nation – News in Hindi

0
4
वंदे भारत मिशन: 8.78 लाख से अधिक भारतीय स्वदेश लौटे, 1 अगस्त से पांचवा चरण

नई दिल्ली. विदेश मंत्रालय (Ministry of Forgien Affairs) ने गुरुवार को बताया कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के मद्देनजर विदेशों से भारतीयों को लाने के लिये सात मई से शुरू किए गए ‘वंदे भारत’ अभियान (Vande Bharat Mission) के तहत 8.78 लाख से अधिक भारतीय स्वदेश लौटे हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव (Anurag Srivasatava) ने संवाददाताओं से कहा कि वंदे भारत का पांचवां चरण एक अगस्त 2020 से शुरू होगा. उन्होंने बताया कि पांचवें चरण में 23 देशों से भारतीयों को लाने के लिये 792 उड़ानें निर्धारित की गई हैं, जिनमें 692 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें और 100 घरेलू उड़ानें हैं.

पांचवें चरण में जिन देशों से लोगों को लाया जाएगा उनमें खाड़ी देश (Gulf Countries), कनाडा (Canada), अमेरिका (America), ब्रिटेन (Britain), जर्मनी (Germany), फ्रांस (France), आस्ट्रेलिया (Austrailia), न्यूजीलैंड (New Zealand), मलेशिया (Malasia), फिलीपीन (Phillipines), सिंगापुर (Singapore), बांग्लादेश (Bangladesh), म्यामां (Myanmar), चीन (China), इजराइल (Israel), यूक्रेन (Ukraine) और किर्गिस्तान (Kyrgistan) शामिल हैं. प्रवक्ता ने बताया कि इस अभियान के तहत 29 जुलाई तक 8,78,921 भारतीय नागरिक लौटे हैं. उन्होंने बताया कि वंदे भारत मिशन के चौथे चरण के तहत अब तक 1,083 उड़ानें निर्धारित की जा चुकी हैं, जिनमें से 849 अंतराष्ट्रीय उड़ानें और 234 फीडर उड़ानें शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- PAK से आए शरणार्थियों को मिला डोमिसाइल सर्टिफिकेट, खत्म हुआ दशकों का संघर्ष

‘तय किराये से ज्यादा न भुगतान करें लोग’इससे पहले नागर विमानन मंत्रालय ने बुधवार को कहा था कि कि वंदे भारत मिशन के तहत संचालित हो रही अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में ट्रैवल एजेंट की मदद से टिकट बुक कराते वक्त कोई भी व्यक्ति एअर इंडिया (Air India) की वेबसाइट पर दिए गए तय किराये से ज्यादा राशि का भुगतान न करे. कोरोना वायरस महामारी के कारण 23 मार्च से ही भारत में निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानें बंद हैं. लेकिन, विदेशों में फंसे लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचाने के लिए वंदे भारत मिशन के तहत एअर इंडिया छह मई से ही चार्टर्ड अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित कर रहा है. इस मिशन के तहत कुछ निजी कंपनियों के विमानों ने भी उड़ानें भरी हैं.

ये भी पढ़ें- अमेरिका में ‘जय श्री राम’ की गूंज, 5 अगस्त को यहां दिखेंगे अयोध्यापति के चित्र

मंत्रालय ने ट्वीट किया है, ‘‘वंदे भारत मिशन की उड़ानों पर ट्रैवल एजेंट के माध्यम से टिकट बुक रहे लोग, कृपया ध्यान दें, वे एअर इंडिया की वेबसाइट पर लिखे किराये से ज्यादा राशि का भुगतान ना करें. जिन यात्रियों को ट्रैवल एजेंट द्वारा ज्यादा राशि वसूले जाने की दिक्कत से दो-चार होना पड़ रहा है वे जीएमएसएम एट द रेट एअरइंडिया डॉट इन पर लिख सकते हैं.’’

भारत ने अमेरिका, जर्मनी और फ्रांस के साथ 16 जुलाई को द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ बनाया था जिसके तहत इन देशों के विमान सीधे भारत के शहरों से परिचालन कर सकेंगे और एअर इंडिया को भी यही सुविधा मिलेगी.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here