AIIB member countries increased from 57 to 103 | एआईआईबी के सदस्य देश 57 से बढ़कर 103 हुए

0
7


बीजिंग, 29 जुलाई (आईएएनएस)। एशियाई आधारभूत संस्थापन निवेश बैंक (एआईआईबी) के पांचवें परिषद का वार्षिक सम्मेलन 28 जुलाई को वीडियो के माध्यम से आयोजित हुआ। पिछले चार से अधिक सालों में एआईआईबी के सदस्यों की संख्या 57 से बढ़कर 103 तक जा पहुंची, जो दुनिया के छह महाद्वीपों से आते हैं।

एआईआईबी चीन के नेतृत्व में स्थापित हुआ, जो एशिया की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में संलग्न है। पिछले चार से अधिक सालों में एआईआईबी ने अपने अधिकांश ऋण चीन के अलावा अन्य सदस्य देशों को दिये। एआईआईबी ने भारत को 75 करोड़ अमेरिकी डॉलर का आपात ऋण दिया।

संयुक्त राष्ट्र संघ और क्षेत्रीय विकास बैंक समेत बहुत से अंतर्राष्ट्रीय संगठनों ने एआईआईबी के साथ सहयोग के समझौते संपन्न किये हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान एआईआईबी ने विश्व बैंक, अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम और एशियाई विकास बैंक के साथ सहयोग कर विकासशील देशों को सहायता दी।

एआईआईबी ने 3 अप्रैल को घोषणा की थी कि महामारी के मुकाबले में 5 अरब डॉलर का संकट कोष स्थापित किया जाएगा। वहीं, 17 अप्रैल को इसे 10 अरब डॉलर तक बढ़ाया। अब तक भारत, बांग्लादेश, थाईलैंड, इंडोनेशिया, तुर्की, जॉर्जिया, फिलीपींस, मंगोलिया, पाकिस्तान, मालदीव, कजाकिस्तान और वियतनाम आदि देशों को 5.9 अरब डॉलर का समर्थन मिला है।

एआईआईबी के महानिदेशक चिन लीछ्वन ने कहा कि एआईआईबी का नाम एशियाई आधारभूत संस्थापन निवेश बैंक है, लेकिन वास्तव में इसके सदस्य पूरी दुनिया से आते हैं। हम एशिया को केंद्र बनाते हैं और दुनिया के अन्य क्षेत्रों का विस्तार करते हैं, क्योंकि हम जानते हैं कि विभिन्न देश एकजुट होकर सहयोग करते हैं और शांतिपूर्ण विकास बढ़ाते हैं, तो एआईआईबी की वास्तविक उपलब्धि मिलेगी।

(साभार—चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

— आईएएनएस

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here