क्रिकेटर नहीं बनना चाहते थे युवराज सिंह, जानिए फिर कैसे बने टीम इंडिया की जान | cricket – News in Hindi

0
6
क्रिकेटर नहीं बनना चाहते थे युवराज सिंह, जानिए फिर कैसे बने टीम इंडिया की जान

युवराज सिंह के पिता भी क्रिकेटर हैं

टेनिस के अलावा युवराज सिंह (Yuvraj Singh) बचपन में स्केटिंग भी किया करते थे

नई दिल्ली. भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने को क्रिकेट की दुनिया का सिक्सर किंग कहा जाता है. उन्होंने क्रिकेट में कई बड़े रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं. 2011 वर्ल्डकप में युवराज मैन ऑफ द सीरीज रहे थे. हालांकि युवराज सिंह (Yuvraj Singh) बचपन में क्रिकेटर नहीं बनना चाहते थे बल्कि उनका पसंदीदा खेल कुछ और था. उन्होंने बताया कि बचपन में वह स्केटिंग और टेनिस को बहुत पसंद किया करते थे.

टेनिस के कारण शुरू किया क्रिकेट खेलना
युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने स्‍पोर्ट्सकीड़ा को दिए इंटरव्यू में बताया, ‘मुझे स्केटिंग और टेनिस बहुत पसंद था. मैं टेनिस में करियर बनाना चाबता था. मैंने अपनी मां को बताया था कि मुझे रैकट चाहिए था और उन्होंने पिता को बताया. पापा थोड़ा गुस्सा हुए क्योंकि उस समय एक रैकेट 2500 रुपए का आता था. उन्होंने मुझे दिलाया लेकिन वह टूर्नामेंट के दौरान टूट गया. ‘ इसके बाद युवराज के अंदर हिम्मत नहीं थी कि वह दोबारा पिता से रैकेट मांगे. युवराज ने कहा, ‘रैकेट तोड़ने के बाद मैं पापा से दोबारा नहीं मांग सकता था. इसलिए मैंने सोचा कि कुछ दिन क्रिकेट खेलता हूं फिर उनसे रैकेट के मां लूंगा लेकिन मुझे क्रिकेट इतना पसंद आया कि मैंने टेनिस खेलना ही छोड़ दिया.’

टेनिस की ओर लौटे युवराज सिंहरिटायरमेंट के बाद युवराज एक बार फिर टेनिस की ओर मुड़ गए हैं. वह रिटायरमेंट के बाद फिटनेस के लिए टेनिस खेलते हैं. उन्होंने बताया, ‘अब मैं हर समय टेनिस खेलता हूं. और सच कहूं तो क्रिकेट को बिलकुल मिस नहीं करता .मैं लगभग हर दूसरे दिन टेनिस खेलता हूं.

युवराज सिंह ने बताया कि उन्हें सचिन तेंदुलकर ने उन्हें सलाह दी थी कि रिटायरमेंट के बाद भी खेल से जुड़े रहना चाहिए. युवराज ने कहा, ‘पाजी ने मुझसे कहा कि चाहे गोल्फ हो या टेनिस कुछ न कुछ खेलते रहना चाहिए. मुझे टेबल टेनिस, बिलियर्ड्स औऱ स्नूकर पसंद है और मैं हर रोज कुछ न कुछ खेलता हूं.’

भारतीय कप्तान करने जा रहे हैं शादी, आठ साल पहले विदेशी गर्लफ्रेंड से की थी सगाई

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर युवराज सिंह ने खुलासा किया है कि करियर के अंत में उनके साथ गैर पेशेवर व्‍यवहार किया गया. युवराज ने कुछ और खिलाड़ियों का भी नाम लिया, जिनका इंटरनेशनल करियर शानदार होने के बावजूद करियर का अंत यादगार नहीं रहा. स्‍पोर्ट्सकीड़ा से बात करते हुए युवी ने कहा कि मुझे लगता है कि उन्‍होंने मेरे करियर के अंत में मेरे साथ जैसा व्‍यवहार किया, वह काफी गैर पेशेवर था. युवी ने कहा कि जब मैं हरभजन सिंह, वीरेंद्र सहवाग, जहीर खान जैसे कुछ और महान खिलाड़ियों को देखता हूं तो उनके साथ भी अच्‍छा व्‍यवहार नहीं हुआ.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here