… तो अब चीन से पल्ला छुड़ाने की कोशिश में TikTok! जल्द शिफ्ट कर सकती है अपना हैडक्वार्टर | business – News in Hindi

0
16
... तो अब चीन से पल्ला छुड़ाने की कोशिश में TikTok! जल्द शिफ्ट कर सकती है अपना हैडक्वार्टर

अमेरिका में भी हो सकता है टिक टॉक बैन

भारत समेत कई देशों में TikTok ऐप पर प्रतिबंध लगने से पेरेंट कंपनी ByteDance को भारी घाटा हुआ है. इसीलिए कंपनी अपने हैडक्वार्टर को चीन से बाहर शिफ्ट करने का प्लान बना रही है.

नई दिल्ली. भारत-चीन सीमा विवाद (India-China Border Rift) के बाद भारत द्वारा 59 चाइनीज ऐप पर बैन लगने से चाइनीज कंपनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है. नुकसान के चलते TikTok की पेरेंट कंपनी ByteDance अपने हैडक्वार्टर को चीन से बाहर शिफ्ट करने का प्लान कर रहा है. बता दें कि दुनिया में टिक टॉक के कुल यूजर्स में तीस प्रतिशत भारत में ही हैं. भारत में इस ऐप के करीब 60 करोड़ से ज्यादा डाउनलोड हैं. बीते साल बाइटडांस कंपनी ने भारत में बड़े स्तर पर फैलाव की योजना के तहत कई सीनियर पदों पर नियुक्तियां की थीं. कंपनी भारत को अपने लिए टॉप ग्रोथ देश के रूप में देख रही थी, लेकिन बैन के बाद हो रहे नुकसान की भरपाई करने के लिए ByteDance कंपनी का पुनर्गठन करने का विचार कर रहा है.

अमेरिका में भी सकता है TikTok बैन- मनी कंट्रोल में छपी एक खबर के मुताबिक़, माना जा रहा भारत में बैन के बाद अब अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने भी संयुक्त राज्य अमेरिका में इस ऐप प्रतिबंध लगाने का संकेत दिए हैं. “बाइटडांस अपने टिक टॉक व्यवसाय के कॉर्पोरेट ढांचे में बदलाव का मूल्यांकन कर रहा है, कंपनी वापस उसी स्टेज पर पहुंचने के लिए कोई अच्छा विकल्प निकालने पर विचार कर रही है.’

कंपनी को हुआ करोड़ों का नुकसान- गौरतलब है कि भारत ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए चीन के 59 ऐप्स को प्रतिबंधित कर दिया था. भारत द्वारा चीन के 59 एप बैन करने से चीन की एक ही कंपनी को 45 हजार करोड़ के नुकसान की आशंका जताई जा रही है. ये कंपनी टिक टॉक और हेलो की मदर कंपनी है. चीन के सभी ऐप में टिकटॉक भारत में सबसे ज्यादा लोकप्रिय था. कई सेलिब्रेटी ट्विटर यूजर्स के फॉलोवर की संख्या लाखों में है. चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक बाइटडांस को 6 बिलियन डॉलर का नुकसान हो सकता है.ये भी पढ़ें : अमेजन ने कर्मचारियों से TikTok ऐप डिलीट करने को कहा, भेजा मेल

हो सकता है नए प्रबंधन बोर्ड का गठन- चर्चा है कि कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों ने कॉर्पोरेट के सामने चीन के बाहर नया हैडक्वार्टर और प्रबंधन बोर्ड के गठन का प्रस्ताव रखा है. उन्होंने कहा कि “हम अपने यूजर्स की गोपनीयता और सुरक्षा की रक्षा करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं क्योंकि हम एक ऐसा मंच बनाते हैं जो रचनात्मकता को प्रेरित करता है और दुनिया भर के लाखों लोगों के लिए खुशी देता है. हम अपने यूजर्स, वर्कर, कलाकारों के हित को देखते हुए आगे कोई कदम उठाएंगे. ये खबर मनीकंट्रोल से ट्रांसलेट की गई है. अंग्रेजी में खबर पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here