अगले साल देने वाले हैं CBSE का बोर्ड एग्जाम तो देख लें ऐसा आएगा पेपर | career-career – News in Hindi

0
6
अगले साल देने वाले हैं CBSE का बोर्ड एग्जाम तो देख लें ऐसा आएगा पेपर | career-career - News in Hindi

फाइल फोटो

साल 2019 में किस तरह के प्रश्नपत्र स्टूडेंट्स को देखने को मिलेंगे इससे रूबरू कराने के लिए सीबीएसई ने सैंपल पेपर्स भी ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in पर जारी कर दिए हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 30, 2018, 2:55 PM IST

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई ने स्टूडेंट्स को पास होने में मदद करने के लिए प्रश्नपत्र में काफी बदलाव किया है. जो कैंडिडेट्स अगले साल बोर्ड परीक्षा देने वाले हैं उन्हें प्रश्नपत्र में विकल्प वाले प्रश्नों की अधिक संख्या देखने को मिलेगी. पहले स्टूडेंट्स को केवल लॉन्ग टाइप सवालों में ही विकल्प मिलते थे लेकिन अब उन्हें शॉर्ट सवालों में भी विकल्प मिलेंगे. सीबीएसई ने प्रश्नपत्र में विकल्प वाले प्रश्नों की संख्या बढ़ाकर 33 फीसदी कर दी है.

ये भी पढ़ें- अगले साल देने वाले हैं 10वीं बोर्ड का एग्जाम तो दें ध्यान, CBSE ने किया ये बड़ा बदलाव

सीबीएसई ने जारी किए सैंपल पेपर
साल 2019 में किस तरह के प्रश्नपत्र स्टूडेंट्स को देखने को मिलेंगे इससे रूबरू कराने के लिए सीबीएसई ने सैंपल पेपर्स भी ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in पर जारी कर दिए हैं. अगर आप सैंपल पेपर चेक करना चाहते हैं तो इन लिंक्स पर जाएं.10वीं क्लास का सैंपल पेपर देखने का लिंक- http://cbseacademic.nic.in/SQP_CLASSX_2018_19.html

12वीं क्लास का सैंपल पेपर देखने का लिंक- http://cbseacademic.nic.in/SQP_CLASSXII_2018_19.html

ये भी पढ़ें-  CBSE नियमों में बड़ा बदलाव, फीस, यूनिफॉर्म और किताबों को लेकर अहम फैसले

पास होने के नियमों में भी बदलाव
इससे पहले सीबीएसई ने अगले साल से किसी भी विषय में थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों को मिलाकर 33 फीसदी नंबर पाने वाले स्टूडेंट्स को पास करने का फैसला किया था. पहले स्टूडेंट्स को थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों में अलग-अलग न्यूनतम अंक लाकर पास होना होता था.

ये भी पढ़ें- अब 30 अक्टूबर तक बिना लेट फीस कराएं 9वीं-11वीं का रजिस्ट्रेशन, CBSE ने बढ़ाई तारीख

सीबीएसई द्वारा जारी किए गए ऑफिशियल नोटिफिकेशन में कहा गया था, ”साल 2019 से 10वीं क्लास की परीक्षा देने वाले छात्रों को इंटरनल असेसमेंट और बोर्ड एग्जाम में अलग-अलग पास होने की स्कीम से छूट दिया गया है. यानी अब उनको पास होने के लिए थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों में मिलाकर 33 नंबर लाने होंगे.”

एजुकेशन से जुड़ी दूसरी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here