18 से अधिक उम्र वालों को इन 24 राज्यों में 1 मई से मुफ्त में लगेगा कोरोना टीका

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस के खिलाफ 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण अभियान एक मई से शुरू होगा. वैसे तो इस आयु के लोगों का टीकाकरण मुफ्त में नहीं किया जाएगा, फिर भी देश के 24 राज्यों ने 18 साल से ऊपर के नागरिकों के लिए बिना किसी शुल्क के कोरोना वैक्सीन मुहैया कराने का ऐलान किया है. आइए जानते हैं कौन-से हैं वे 24 राज्य:

दिल्ली
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 26 अप्रैल को कहा कि दिल्ली सरकार शहर में 18 साल से ऊपर के व्यक्तियों को नि:शुल्क कोविड-19 टीका उपलब्ध कराएगी और 1. 34 करोड़ खुराकों की खरीद को मंजूरी दे दी गई है. उन्होंने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार टीकों की खरीद और लोगों को टीका लगाने की गति तेज करने के लिए प्रयास करेगी. केजरीवाल ने कहा, ‘हम यथाशीघ्र बड़े पैमाने पर टीकाकरण शुरू करने की योजना पर काम कर रहे हैं.’ केजरीवाल ने कहा कि कोविड-19 टीकों की कीमत एक ही होनी चाहिए और उन्होंने केंद्र से कीमतें कम करने की अपील की.

ओडिशाओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 25 अप्रैल को राज्य के 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों का निशुल्क कोविड-19 टीकाकरण किए जाने की घोषणा की. राज्य के लोगों को संबोधित एक वीडियो संदेश में पटनायक ने कहा कि सरकार दो करोड़ लोगों के टीकाकरण के वास्ते 2,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी. राज्य में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण जारी है जो कि निशुल्क है.

लद्दाख
लद्दाख के उप राज्यपाल आरके माथुर ने 26 अप्रैल को घोषणा की कि राज्य के सभी 18 से 45 साल के पात्र निवासियों को मुफ्त में टीका दिया जाएगा जिसकी शुरुआत अगले महीने हो रही है. उप राज्यपाल के कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘लद्दाख प्रशासन 18 से 45 वर्ष के आयुवर्ग के लोगों के टीकाकरण के लिए कोविड-19 टीके की खरीद की प्रक्रिया में है. सभी योग्य लोगों को मुफ्त में टीका दिया जाएगा.’ गौरतलब है कि लद्दाख में गत चार हफ्तों में कोविड-19 के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है और महामारी की दूसरी लहर में लेह जिला सबसे अधिक प्रभावित हुआ है.

कर्नाटक
कर्नाटक सरकार ने भी 18 से 45 साल आयु वर्ग के लोगों को सरकारी अस्पतालों में कोविड-19 का टीका नि:शुल्क उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है. मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने कहा, ’18 से 45 साल आयु वर्ग के लोगों को सरकारी अस्पतालों में टीका नि:शुल्क लगाया जाएगा. इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश स्वास्थ्य विभाग जारी करेगा.’

तेलंगाना
तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने 24 अप्रैल को घोषणा की कि तेलंगाना सरकार राज्य में पूरी आबादी को निशुल्क कोविड-19 रोधी टीका लगवाएगी. राव ने कहा कि सभी को टीका लगाने में 2,500 करोड़ रुपये से अधिक की लागत आएगी और लोगों की जिंदगी की अहमियत को देखते हुए यह राशि खर्च करनी चाहिए. एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि मुख्यमंत्री ने इस बाबत मुख्य सचिव सोमेश कुमार तथा चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. तेलंगाना की आबादी करीब चार करोड़ है जिनमें विभिन्न राज्यों से अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने आए लोग भी शामिल हैं और अबतक 35 लाख लोगों को टीका लग चुका है. राव ने कहा कि शेष लोगों को निशुल्क टीका लगाया जाएगा.

गुजरात
गुजरात सरकार एक मई से 18 वर्ष से 45 वर्ष तक के लोगों को कोविड-19 के टीके नि:शुल्क लगवाएगी और इसके लिए 1.5 करोड़ खुराक का ऑर्डर पहले ही दिया जा चुका है. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह फैसला किया गया. एक सरकारी विज्ञप्ति में बताया गया कि राज्य सरकार पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से कोविशील्ड की एक करोड़ खुराक और हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक से कोविशील्ड की 50 लाख खुराक खरीदेगी.

राजस्‍थान
राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने 25 अप्रैल को घोषणा की कि राज्‍य में 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण राज्‍य सरकार अपने खर्च पर करवाएगी. उन्होंने कहा कि राज्‍य सरकार इस पर लगभग 3000 करोड़ रुपये खर्च करेगी. राज्‍य सरकार ने एक मई से शुरू होने वाले टीकाकरण के लिए दवा कंपनियों को ऑर्डर देना शुरू कर दिया है. गहलोत ने कहा कि राज्‍य में 18 से 45 वर्ष की आयु वर्ग के करीब 3 करोड़ 75 लाख व्यक्ति हैं. इन सभी व्यक्तियों को टीके की दो खुराक लगाने के लिए राज्य सरकार करीब 3 हजार करोड़ रुपये खर्च करेगी.

महाराष्ट्र
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता और अल्पसंख्यक कार्य मंत्री नवाब मलिक ने 25 अप्रैल को कहा कि महाराष्ट्र सरकार 45 वर्ष से कम उम्र के वयस्क नागरिकों को निशुल्क कोविड -19 रोधी टीका लगवाने के लिए वैश्विक टेंडर निकालेगी. पत्रकारों से बातचीत करते हुए, मलिक ने कहा कि टीकाकरण अभियान एक मई से शुरू होगा और इसके लिए राज्य सरकार के कोष का इस्तेमाल किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘किफायती और गुणवत्ता पूर्ण टीका खरीदने के लिए वैश्विक टेंडर निकाला जाएगा.’

हिमाचल प्रदेश
हिमाचल प्रदेश सरकार ने 22 अप्रैल को कहा कि वह एक मई से 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को कोविड-19 का टीका नि:शुल्क उपलब्ध कराएगी. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने संवाददाताओं से कहा कि आम जनता के कल्याण को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया. हालांकि, इससे सरकारी खजाने पर भारी बोझ पड़ेगा. मंत्री ने कहा कि नि:शुल्क टीकाकरण सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में उपलब्ध कराया जाएगा.

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का निशुल्क टीकाकरण करने का फैसला किया है। अधिकारियों ने 21 अप्रैल को रायपुर में बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने घोषणा की है कि छत्तीसगढ़ में 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को निशुल्क टीका लगाया जाएगा. उन्होंने कहा कि टीकाकरण कर खर्च सरकार वहन करेगी. मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, ‘अपने नागरिकों की जीवन रक्षा के लिए हम हरसंभव कदम उठाएंगे. केंद्र सरकार से अनुरोध किया गया है कि छत्तीसगढ़ में पर्याप्त संख्या में वैक्सीन की उपलब्धता सुनिश्चित करें.’

बिहार
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 21 अप्रैल को घोषणा की कि राज्य सरकार 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी प्रदेशवासियों का निशुल्क टीकाकरण कराएगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया ’18 वर्ष एवं इससे ऊपर के सभी बिहार वासियों का मुफ्त टीकाकरण राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा.’ उन्होंने कहा कि इसकी शुरुआत एक मई से की जाएगी और इसका सारा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी.

असम
असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने 21 अप्रैल को कहा कि राज्य सरकार एक मई से 18 से 45 वर्ष की आयु के लोगों का मुफ्त में टीकाकरण कराएगी. उन्होंने कहा कि पिछले साल कोविड-19 से निपटने के लिए मिली दान राशि का इस्तेमाल इस उद्देश्य के वास्ते किया जाएगा. राज्य का स्वास्थ्य विभाग भारत बायोटेक को पहले ही टीके की एक करोड़ खुराक के लिए पत्र लिख चुका है.

उत्तराखंड
उत्तराखंड में 18 से 45 वर्ष के आयुवर्ग के लोगों को कोविड-19 का टीका निशुल्क लगाया जाएगा. मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने देहरादून में 23 अप्रैल को एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान यह घोषणा करते हुए कहा कि मई के प्रथम सप्ताह में यह कवायद शुरू कर दी जाएगी. रावत ने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 वर्ष से ऊपर के सभी युवाओं को टीका लगाने की घोषणा की है. उसी के तहत हमारी सरकार ने यह निर्णय लिया है कि 18 से 45 वर्ष के आयुवर्ग के लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा. यह टीका निशुल्क लगाया जाएगा.’ उन्होंने कहा कि इस टीकाकरण अभियान में 50 लाख लोग लाभान्वित होंगे और इन पर आने वाला करीब 400 करोड रुपये का व्यय राज्य सरकार वहन करेगी.

इनके अलावा मध्य प्रदेश, सिक्किम, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, पश्चिम बंगाल, गोवा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, झारखंड और जम्मू-कश्मीर ने भी 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए मुफ्त में कोरोना वैक्सीन लगाने का फैसला किया है.

Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,913FansLike
2,756FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles