श्रीनगर और बारामूला में मंडरा रहा है आतंकी खतरा, अलर्ट पर खुफिया एजेंसी

एजेंसी के मुताबिक एलओसी से 1.13 किलोमीटर दूर राजौरी के अपोजिट पीओके में 13 मार्च से थुराय फोन एक्टिव है.

Jammu Kashmir Latest news in Hindi: ख़ुफ़िया एजेंसियों के हवाले से आ रही खबर के मुताबिक घुसपैठ के दौरान पाक आर्मी, आतंकी और उनके हैंडलर्स के बीच बेहतर तालमेल के लिए अत्याधुनिक कम्युनिकेशन उपकरणों का इस्तेमाल किया जा रहा है.

नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के श्रीनगर और बारामूला के पट्टन में एक बार फिर बड़े आतंकी हमले का खतरा मंडरा रहा है. सेना और पुलिस को बारामूला के पालहालां, पट्टन और गुंड ख्वाजा क़ासिम इलाके में आतंकियों के छिपने की जानकारी मिली है. जानकारी मिलते ही सेना ने पट्टन इलाके में लश्कर के आतंकी खुर्शीद अहमद मीर के जगह-जगह पोस्टर लगवाए हैं. साथ ही उसके लिए 10 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की है.

लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकियों (Lashkar-e-Taiba Terrorist) की मूवमेंट लगातार देखी जा रही है. खुफ़िया सूत्रों के मुताबिक, सरहद पार से आतंकियों को श्रीनगर पर फोकस करने को कहा गया है. कुलगाम में बैठा लश्कर का सरगना अब्बास शेख श्रीनगर में मौजूदा आतंकियों को निर्देश दे रहा है. इतना ही नहीं कश्मीर घाटी में लगातार बेहतर होते हालात से बौखलाए सरहद पार बैठे आतंक के आका ज्यादा से ज्यादा आतंकियों को घाटी में घुसपैठ कराने की फिराक में हैं।

कई आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे हैं आतंकी
ख़ुफ़िया एजेंसियों के हवाले से आ रही खबर के मुताबिक घुसपैठ के दौरान पाक आर्मी, आतंकी और उनके हैंडलर्स के बीच बेहतर तालमेल के लिए अत्याधुनिक कम्युनिकेशन उपकरणों का इस्तेमाल किया जा रहा है.ये भी पढ़ेंः- आतंकियों की नई साजिश ‘स्टिकी बम’, जम्मू-कश्मीर में अलर्ट हुईं सुरक्षा एजेंसियां

एजेंसी के मुताबिक एलओसी से 1.13 किलोमीटर दूर राजौरी के अपोजिट पीओके में 13 मार्च से थुराय फोन एक्टिव है. ये दुनिया का सबसे एडवांस सेटेलाइन फोन है. इस फोन की खास बात ये है कि इसके जरिए किसी भी जगह से संपर्क साध सकते हैं.

13 मार्च को सेना ने किया था एनकाउंटर
इससे पहले 13 मार्च को सेना ने जम्मू-कश्मीर के शोपियां में एक एनकाउंटर को अंजाम दिया था. शोपियां के रावलपुरा में 20 घंटे के कोर्डन और सर्च ऑपरेशन के बाद शुरू हुई मुठभेड़ में पहले ही दिन सुरक्षाबलों ने 1 मिलिटेंट को मार गिराया था. उसकी पहचान जहांगीर अहमद वानी निवासी शोपियां के तौर पर हुई थी. सुरक्षाबलों को उसके पास से अमरिकी राइफल M4 भी मिली थी.

सुरक्षाबलों को इस मुठभेड़ में वलायत उर्फ सज्जाद अफगानी के घेरे जाने की पक्की सूचना थी जिसको देख रविवार को भी यह सर्च ऑपरेशन जारी रहा हालांकि इलाके में सुरक्षाबलों पे पथराव की घटनाएं भी देखी गई पर सुरक्षाबलों ने सज्जाद को भागने का कोई भी मौका नही दिया और आखिरकार सज्जाद को इस मुठभेड़ में मार गिराया गया.




Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,737FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles