ये कैसी दोस्ती? कांग्रेस नेता की शरद पवार को चिट्ठी- बंगाल में TMC का प्रचार न करें

कांग्रेस नेता ने पवार को चिट्ठी लिखकर ममता बनर्जी के समर्थन में प्रचार न करने के लिए कहा है. (फाइल फोटो)

West Bengal Assembly Elections: कांग्रेस नेता प्रदीप भट्टाचार्य की इस चिट्ठी से एक दिन पहले ही एनसीपी प्रमुख पवार ने देश में तीसरा मोर्चा बनाने की बात कही थी. पवार ने कहा था कि देश में तीसरा मोर्चा बनाने की आवश्यकता है और इसके लिए विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ बातचीत भी हो रही है.

नई दिल्ली. कांग्रेस के नेता प्रदीप भट्टाचार्य ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार और राष्ट्रीय जनता दल के तेजस्वी यादव को चिट्ठी लिखी है. भट्टाचार्य ने अपनी चिट्ठी में दोनों नेताओं से पश्चिम बंगाल चुनावों में तृणमूल कांग्रेस के लिए चुनाव प्रचार न करने की अपील की है. भट्टाचार्य ने अपने पत्र में लिखा है कि स्टार कैंपेनर्स के तौर पर आपकी उपस्थिति से पश्चिम बंगाल के मतदाताओं में असमंजस की स्थिति पैदा होगी. ऐसे में आप तृणमूल कांग्रेस के लिए अपने चुनावी प्रचार को टाल दें.

भट्टाचार्य की इस चिट्ठी से एक दिन पहले ही एनसीपी प्रमुख पवार ने देश में तीसरा मोर्चा बनाने की बात कही थी. पवार ने कहा था कि देश में तीसरा मोर्चा बनाने की आवश्यकता है और इसके लिए विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ बातचीत भी हो रही है. पवार ने इसके गठन को लेकर ज्यादा जानकारी न देते हुए बताया था कि फिलहाल इसे अभी आकार नहीं दिया गया है. पवार ने यह भी कहा था कि सीपीआईएम प्रमुख सीताराम येचुरी ने उनकी इस बात का समर्थन भी किया है.

ये भी पढ़ें- इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति के ऐतराज पर मस्जिद कमेटी ने 2 लाउडस्पीकर हटाए

पवार के इस बयान के बाद भी नहीं बदला कांग्रेस का रुखशरद पवार ने कहा था कि पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में केंद्रीय नेतृत्व की ओर से किए जा रहे हमलों को देखते हुए किसी भी लोकतांत्रिक पार्टी को ममता बनर्जी का समर्थन करना चाहिए. गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियां गठबंधन में चुनाव लड़ रही हैं. वहीं महाराष्ट्र में कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के गठबंधन की महा विकास अघाडी की सरकार है. ऐसे में कांग्रेस नेता का यह पत्र शरद पवार के बयान को लेकर सवाल खड़े कर रहा है.

ये भी पढ़ें- आंदोलन में मारे गए किसानों पर बोले सत्यपाल मलिक-कुतिया के मरने पर तो…

बता दें इन दोनों ही नेताओं का नाम टीएमसी की स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट में है. वहीं तेजस्वी यादव इससे पहले भी ममता बनर्जी के समर्थन में वोट मांग चुके हैं. तेजस्वी यादव ने कहा था कि उनकी पार्टी की पहली प्राथमिकता पश्चिम बंगाल में भाजपा को आगे बढ़ने से रोकना है. तेजस्वी ने कहा कि आगामी चुनाव ‘आदर्शों एवं मूल्यों’ को बचाने की लड़ाई होगी. उन्होंने कहा, ‘‘ हमारी पार्टी का रुख ममताजी को पूरा समर्थन देना है. ’’ उन्होंने बिहार के लोगों से बनर्जी की पार्टी के साथ खड़ा रहने की अपील की.




Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles