भारत में अब से कोविड टेस्‍ट सैंपल फॉर्म भरते हुए आपको देनी होगी ये अहम जानकारी

देश में वैक्‍सीन लेने के बाद कोरोना होने की जानकारी लेने के लिए केंद्र सरकार ने अब बदलाव किया है.

भारत में सैंपल रेफरेंस फॉर्म भरते हुए लोगों को ये बताना होगा कि आपने कोरोना का टीका लिया है या नहीं. इसके साथ ही कोवैक्‍सीन या कोविशील्‍ड में से कौन सा टीका लिया है. टीका लेने की तारीख भी बतानी होगी. ये भी जानकारी देनी होगी की पहला डोज कब और दूसरा कब लिया है.

नई दिल्‍ली. देश में कोरोना के मामलों के बढ़ने के साथ ही कोरोना वैक्‍सीनेशन को भी तेज गति से बढ़ाया जा रहा है. इसी क्रम में कोरोना वैक्‍सीनेशन के समय से लेकर उसके तरीके में भी कई तरह के बदलाव किए जा रहे हैं. ताकि कोरोना महामारी को बढ़ने से रोका जा सके. अभी तक कोरोना वायरस को लेकर सामने आ रहे नए नए वैरिएंट और नए नए लक्षणों को देखते हुए कुछ जरूरी बदलाव भी किए जा रहे हैं.

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय कोरोना से निपटने के तरीके बढ़ाने के साथ ही अब ये भी पता लगाएगा कि वैक्‍सीन लेने के बाद कितने लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं. इसके साथ ही केंद्र की ओर से राज्‍य सरकारों को दोबारा संक्रमित होने वाले लोगों की भी जानकारी देने के लिए कहा गया है. दिल्‍ली सरकार की ओर से भी हाल ही में इसे लेकर एक आदेश जारी किया गया था कि सभी जिले दोबारा संक्रमण वाले मामलों का डेटा तैयार करके एनसीडीसी को दें.

फिलहाल केंद्र सरकार की ओर से कोविड का टीका लेने वालों के कोविड 19 सैंपल टेस्‍ट के फॉर्म में नया कॉलम जोड़ा गया है. इससे पहले स्वास्थ्य मंत्रालय के पास पता करने का कोई जरिया नहीं था कि टीका लेने के बाद कोई पॉजिटिव हो रहा है या नहीं. बता दें कि देश में कई जगहों से टीका लेने के बाद पॉजिटिव होने की खबरों के बाद ये व्यवस्था की गई है.

इस सैंपल रेफरेंस फॉर्म में ये बताना होगा कि आपने कोरोना का टीका लिया है या नहीं. इसके साथ ही कोवैक्‍सीन या कोविशील्‍ड में से कौन सा टीका लिया है. इसके साथ ही टीका लेने की तारीख भी बतानी होगी. ये भी जानकारी देनी होगी की पहला डोज कब और दूसरा अगर लिया है तो कब लिया है.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,735FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles