बढ़ाई गई बीजेपी नेता मुकुल रॉय की सुरक्षा, अब मिलेगा Z कैटेगरी कवर

भाजपा नेता मुकुल रॉय (PTI Photo)

अब तक मुकुल रॉय (Mukul Roy) को Y+ कैटगरी सुरक्षा मिलती थी. रॉय पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर उत्तर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनके सामने टीएमसी की प्रत्याशी कौशानी मुखर्जी हैं.

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय (Mukul Roy) की सुरक्षा और बेहतर कर दी गई है. अब उन्हें पश्चिम बंगाल में Z कैटगरी की सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई जाएगी. अब तक उन्हें Y+ कैटगरी सुरक्षा मिलती थी. रॉय पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर उत्तर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. उनके सामने टीएमसी की प्रत्याशी कौशानी मुखर्जी हैं.

राज्य में विधानसभा चुनाव में पहले चरण की वोटिंग 27 मार्च को है. पहले चरण के दौरान 30 सीटों पर चुनाव होंगे. राज्य की 294 सदस्यीय विधानसभा के लिए 8 चरणों में चुनाव कराए जा रहे हैं. आखिरी चरण की वोटिंग 29 अप्रैल को होगी. मतगणना 2 मई को होगी.

पश्चिम बंगाल में बीजेपी का प्रभाव बढ़ाने वाले नेता
पश्चिम बंगाल में भाजपा को स्थापित करने वालों में टीएमसी के पूर्व नेता 66 वर्षीय मुकुल रॉय की अहम भूमिका अहम है. पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रॉय भाजपा के बंगाल अभियान के हर फ्रेम का हिस्सा हैं. उन्हें अब तक सीएम कैंडिडेट के तौर पर नहीं माना जा रहा है, इसके बाद भी रॉय ने नाराजगी जाहिर नहीं की. वह बीजेपी के लक्ष्य- ‘इस बार 200 पार’ पर काम कर रहे हैं.कांग्रेस से की थी राजनीतिक जीवन की शुरुआत

मुकुल रॉय ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत एक युवा कांग्रेस नेता के रूप में की. तब ममता बनर्जी संगठन का हिस्सा थीं. ममता ने जनवरी 1998 में कांग्रेस से अलग होने के बाद अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस की स्थापना की. वह इसके संस्थापक सदस्यों में से थे. इसके बाद रॉय दिल्ली में पार्टी का चेहरे बन कर उभरे. साल  2006 में  उन्हें महासचिव बनाया गया और राज्य सभा पहुंचे. यूपीए-II सरकार में उन्होंने रेल मंत्री बनने से पहले राज्य मंत्री के रूप में काम किया था. इससे पहले रेल मंत्रालय, ममता बनर्जी के पास था. 2017 में वो बीजेपी शामिल हुए थे.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,735FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles