प्रतापगढ़ में BJP विधायक का DM आवास पर जमीन पर लेट कर प्रदर्शन, बोले- SP मार डालेगा मुझको

प्रतापगढ़ में बीेजपी विधायक धीरज ओझा का डीएम आवास पर लेटकर प्रदर्शन

UP Panchayat Election: बीजेपी विधायक ने एक पंचायत चुनाव लड़ने के इच्छुक शख्स का नाम वोटरलिस्ट में दर्ज कराने को लेकर बुधवार को प्रतापगढ़ डीएम के आवास पर धरना देना शुरू कर दिया. इसके बाद उन्होंने एसपी पर जान से मारने की धमकी देने व हाथापाई करने के आरोप भी लगाए.

प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक धीरज ओझा (MLA Dheeraj Ojha) बुधवार को डीएम आवास पर धरने पर बैठ गए. विधायक का आरोप था कि पंचायत चुनाव (Panchayat Election) लड़ने का इच्छुक एक शख्स को पांच महीने से मतदाता सूची में नाम नहीं जोड़ा जा रहा है. इसके अलावा कई और शिकायतें हैं, जिन पर प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है, इसलिए वह धरने पर बैठे हैं.

उधर बीजेपी विधायक अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठे ही थे कि मौके पर डीएम और एसपी चुनाव दौरे से वापस आ गए. इसके बाद विधायक दफ्तर से बाहर निकले और अचानक जमीन में लेट कर विरोध प्रदर्शन करने लगे. इस दौरान विधायक ने एसपी द्वारा गोली मारने की धमकी देने का आरोप लगाया. डीएम के कार्यालय से विधायक फटे कपड़े में बाहर निकले. इसके बाद विधायक को डीएम ने खुद अपने पास बुलाया और इस समय बंद कमरे में विधायक और अफसरों के बीच बातचीत चल रही है.

विधायक बोले- इसलिए बैठा हूं धरने पर…

इससे पहले विधायक धीरज ओझा ने बताया कि मैं डीएम आवास पर इसलिए धरने पर बैठा हूं, क्योंकि एक आमिर और उसकी पत्नी चुनाव लड़ना चाहते थे. शिवगढ़ में दबंग आदमी के खिलाफ. लेकिन प्रशासन ने वोटर लिस्ट से उनका नाम हटा दिया. वहां के बीएलओ भी लिख कर दे रहे हैं लेकिन ये मामले को लटका रहे हैं. राहुल यादव एसडीएम और सतीश त्रिपाठी अतिरिक्त मजिस्ट्रेट ने कोई जांच नहीं की और आज तक मतदाता सूची में नाम उसका दर्ज नहीं हुआ. उसका कहीं नाम नहीं है. पांच महीने से उसको प्रशासन दौड़ा रहा है. उसके परिवार को धमकियां भी मिलीं लेकिन वह कहा कि मैं चुनाव लडूंगा.

Youtube Video

विधायक ने बताया कि इसके अलावा कई अन्य मामले हैं, जिनमें पत्र लिखने के बावजूद डीएम, एसपी की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. तालाब कब्जा हुआ है, शिकायत हो चुकी है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. हमारी सरकार गुंडो पर कार्रवाई कर रही है. लेकिन यहां प्रशासन गुंडों को संरक्षण दे रहा है. 38 मुकदमे वालों को जिला बदर नहीं कर रही है. सब जगह चिट्ठी लिखी गई है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. यही कारण है कि आज मैं डीएम आवास पर धरना दे रहा हूं. उधर विधायक के एसपी के खिलाफ आरोप लगाने के बाद उनके समर्थक उग्र हो गए और डीएम आवास पर नारेबाजी शुरू हो गई.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,735FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles