तनाव की वजह से संन्यास लेने वाली साराह टेलर करेंगी वापसी, द हंड्रेड में खेलेंगी

साराह टेलर इंग्लैंड की ओर से 200 से अधिक इंटरनेशनल मैच खेल चुकी हैं . (Sarah Taylor Twitter)

इंग्लैंड की पूर्व विकेटकीपर बल्लेबज साराह टेलर (Sarah Taylor) एक बार फिर मैदान पर वापसी करने जा रही हैं. उन्हाेंने सितंबर 2019 में तनाव के कारण इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया था.

नई दिल्ली. साराह टेलर (Sarah Taylor) फिर से मैदान पर उतरने जा रही हैं. इंग्लैंड की पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने द हंड्रेड (The Hundres) के लिए वेल्स फायर के साथ करार किया है. इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड 21 जुलाई से द हंड्रेड का आयोजन करने जा रहा है. इसकी शुरुआत पिछले साल ही होनी थी. लेकिन कोरोना के कारण इसे एक साल के लिए टाल दिया गया था. कुल 8 टीमें इसमें उतरेंगी. महिला और पुरुष दोनों वर्ग में टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है.

साराह टेलर ने सितंबर 2019 में तनाव की वजह से अचानक 30 साल की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. उन्होंने 18 महीने से क्रिकेट नहीं खेला है. उन्हें महिला क्रिकेट में सबसे बेहतर विकेटकीपर माना जाता था. रिकॉर्ड इसकी गवाही देते हैं. वे वनडे और टी20 दोनों में विकेट के पीछे शिकार करने के मामले में दूसरे नंबर पर हैं. उन्होंने 126 वनडे में विकेट के पीछे 136 शिकार किए. इसमें 85 स्टम्पिंग और 51 कैच हैं. उनसे आगे दक्षिण अफ्रीका की त्रिषा चेट्टी हैं. उन्होंने 116 वनडे में 163 शिकार किए हैं.

अगर टी20 की बात करें तो टेलर ऑस्ट्रेलिया की विकेटकीपर एलिसा हिली के बाद दूसरे पायदान पर हैं. टेलर ने 90 टी20 में 74 शिकार किए. इसमें 23 कैच और 51 स्टम्पिंग हैं. हिली ने अपने टी20 करियर में 115 मैच में विकेट के पीछे 97 शिकार किए. साराह टेलर ने कुछ दिन पहले काउंटी टीम ससेक्स को ज्वाइन किया है. वे टीम के कोचिंग स्टाफ के साथ जुड़ी हैं. वो नए सीजन में पुरुष टीम के साथ काम करेंगी.

यह भी पढ़ें: IPL 2021: विराट कोहली ने बताया रोहित आर्मी से लड़ने का मंत्र, मुंबई इंडियंस से है बैंगलोर का पहला मैचयह भी पढ़ें: आईपीएल के बीच टीम इंडिया ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की तैयारी शुरू की, यह खिलाड़ी पहुंचा इंग्लैंड

मैदान पर वापसी करके खुश हूं

साराह टेलर ने द हंड्रेड से जुड़ने के बाद कहा कि वे मैदान पर वापसी करके खुश हैं. वे काफी समय से वापसी की कोशिश कर रही थीं. लेकिन कोरोना के कारण इसमें देरी हो रही थी. उन्होंने कहा कि मैं मेग लेनिंग जैसे खिलाड़ियों के साथ खेलने जा रही हूं. मैं पिछले कुछ सालों से ऐसा चाह रही थी. लेनिंग की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया की महिला टीम ने वनडे में रिकॉर्ड 22 जीत दर्ज की है.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles