कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंतित गृह मंत्रालय, राज्यों को चिट्ठी लिखकर नियम पालन का दिया निर्देश

देश में कोरोना की रफ्तार बेहद तेज बढ़ रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

गृह मंत्रालय (MHA) ने इस बात पर जोर दिया है कि कोरोना के नए मामलों (New Covid Cases) में रफ्तार आने की एक वजह लोगों द्वारा नियमों का ढंग से पालन न किया जाना है. चिट्ठी में राज्यों को होली के त्योहार को लेकर भी आगाह किया गया है.

 नई दिल्ली. देश में कोरोना मामलों (Covid-19 Cases) की तेज रफ्तार से चिंतित गृह मंत्रालय (MHA) ने राज्यों को चिट्ठी लिखी है. मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से कोरोना संबंधी दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया है. मंत्रालय की चिट्ठी में जोर दिया गया है कि मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो करने और हाथों की सफाई के नियमों के पालन पर लगातार ध्यान देना होगा.

गृह मंत्रालय ने इस बात पर भी जोर दिया है कि कोरोना के नए मामलों में रफ्तार आने की एक वजह लोगों द्वारा नियमों का ढंग से पालन न किया जाना भी है. चिट्ठी में राज्यों को होली के त्योहार को लेकर भी आगाह किया गया है. गौरतलब है कि बीते वर्ष भी होली के दौरान कई कार्यक्रमों को कोरोना की वजह से रद्द किया गया था. अब एक बार फिर बढ़ते मामलों के मद्देनजर नियमों के पालन की ताकीद की गई है.

महाराष्ट्र में स्थिति चिंताजनक
देश के कई राज्‍यों में कोविड-19 महामारी की रफ्तार बढ़ती ही जा रही है. विशेषरूप से महाराष्ट्र में स्थिति चिंताजनक हो चुकी है. इसी कारण एक बार फिर पाबंदियों की वापसी हो रही है. जिसका सीधा असर सामाजिक, सांस्‍कृति और शादी समारोह पर पड़ता दिख रहा है. शादी जैसे मांगलिक आयोजनों में दोबारा मेहमानों की संख्‍या में कटौती शुरू हो गई है. आनंद और उत्‍साह के आयोजन भी फीके पड़ने लगे हैं.महाराष्ट्र में अलग-अलग तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं. कहीं लॉकडाउन है तो कहीं पर नाइट कर्फ्यू. इसके अलावा मुंबई में पुलिस लोगों से कोरोना नियम तोड़ने पर जुर्माना भी वसूल कर रही है. पुलिस को सख्त हिदायत दी गई है कि लोगों की अनर्गल आवाजाही पर रोक लगाई जाए.

कई राज्यों में तेज बढ़े केस, लगे प्रतिबंध
पंजाब सरकार ने बढ़ते हुए कोरोना के मामलों को देखते हुए स्कूल और कॉलेज 31 मार्च तक बंद करने का निर्णय लिया है. महामारी से बुरी तरह प्रभावित 11 जिलों में कड़ी पाबंदियों की घोषणा की गई है. सरकार ने प्रभावित जिलों में सामाजिक समारोह पर रोक लगा दी है. इसी तरह गुजरात, केरल और कर्नाटक जैसे राज्यों में भी सरकारें एहतियातन कदम उठा रही हैं.




Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles