केरल में फिर वाम या कांग्रेस की सरकार, कुछ देर में एग्जिट पोल्स के अनुमान

Kerala Exit Poll 2021 Live Updates: केरल के नेमोम, धर्मदम, थालीपराम्बा, मत्तनूर और कझाकूतम सीटों पर सबसे ज्यादा मतदान हुआ था. केरल में 957 उम्मीदवार चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

Kerala Exit Poll 2021 Live Updates: केरल के नेमोम, धर्मदम, थालीपराम्बा, मत्तनूर और कझाकूतम सीटों पर सबसे ज्यादा मतदान हुआ था. केरल में 957 उम्मीदवार चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

तिरुवनंतपुरम. केरल विधानसभा चुनाव के नतीजे तो 2 मई को सामने आएंगे, लेकिन अब से कुछ ही देर में आने वाले एग्जिट पोल पर सबक निगाहें टिकी हैं. केरल में मुख्य मुकाबला माकपा नीत एलडीएफ और कांग्रेस की अगुवाई वाले यूडीएफ के बीच है. दूसरी ओर, भाजपा की अगुवाई वाला राजग पिछली बार की तुलना में राज्य में कम से कम एक से तीन सीटें हासिल करने की उम्मीद कर रहा है.

15वीं केरल विधानसभा के लिए 6 अप्रैल को वोट डाले गए थे. चुनाव आयोग के मुताबिक राज्य में कुल 74.02 प्रतिशत मतदान हुआ था. नेमोम, धर्मदम, थालीपराम्बा, मत्तनूर और कझाकूतम सीटों पर सबसे ज्यादा मतदान हुआ था. केरल में 957 उम्मीदवार चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

Exit Poll 2021 Live Updates: बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में किसकी सरकार? कुछ देर में एग्जिट पोल के नतीजे

एलडीएफ ने किया था जीत का दावा:एलडीएफ संयोजक और माकपा के राज्य प्रभारी सचिव ए विजयराघवन ने वोटिंग के अगले दिन मीडिया को बताया कि वाम मोर्चा इस बार अधिक सीटें हासिल करेगा. विजयराघवन ने कहा था, ‘वाम लोकतांत्रिक मोर्चा पिछली बार की तुलना में अधिक सीटें हासिल करेगा. कांग्रेस-गठबंधन को इस बार सबसे बुरी हार का सामना करना पड़ेगा. एलडीएफ सत्ता में बरकरार रहेगा.’

यूडीएफ ने भी किया था जीता दावा

यूडीएफ के नेता भी कह रहे हैं कि उनका गठबंधन पर्याप्त सीटें हासिल करके सत्ता में वापसी करेगा क्योंकि ‘लोगों ने यूडीएफ के समर्थन में और एलडीएफ के जन-विरोधी शासन के खिलाफ वोट दिया है.’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रमेश चेन्नीथला ने हरिपद में सात अप्रैल को मीडिया से कहा, ‘हमारे द्वारा लगाए गए सभी आरोप सही हैं और लोगों को यह पता है. लोगों के मतदान के रुझान से पता चलता है कि उन्हें विपक्ष पर भरोसा है, जिसने सरकार में भ्रष्टाचार और घोटालों को उजागर किया है.’

राजग को भी जीत की आस

भाजपा की अगुवाई वाला राजग पिछली बार की तुलना में राज्य में कम से कम एक से तीन सीटें हासिल करने की उम्मीद कर रहा है. भाजपा के प्रदेश प्रमुख के सुरेन्द्रन ने कोझीकोड में सात अप्रैल को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम चुनाव परिणाम आने के बाद केरल की राजनीति में एक प्रमुख ताकत के रूप में सामने आएंगे. विधानसभा में हमारी क्षमता बढ़ेगी.’





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,913FansLike
2,756FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles