इमरान ने दिया पीएम मोदी की चिट्ठी का जवाब, शांति के साथ कश्मीर राग भी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और भारत के पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

इमरान खान (Imran Khan) ने कहा है कि वो अपने सभी पड़ोसी देशों के साथ शांति चाहते हैं, जिनमें भारत भी शामिल है. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के पाकिस्तान के नेशनल डे पर लिखे पत्र के लिए धन्यवाद कहा है.

नई दिल्ली. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने PM नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को खत लिखा है. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के पाकिस्तान के नेशनल डे पर लिखे पत्र के लिए धन्यवाद कहा है. साथ ही इमरान खान ने कहा है कि वो अपने सभी पड़ोसी देशों के साथ शांति चाहते हैं, जिनमें भारत भी शामिल है. दरअसल बीते 23 मार्च को पीएम मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को पाकिस्तान नेशनल डेके मौक पर पत्र लिखकर शुभकामनाएं दी थीं.

ये हाल के दिनों में ये दूसरा मौका था जब प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपनी ओर से संदेश दिया था. इससे पहले इमरान खान के कोविड संक्रमित पाए जाने के बाद पीएम मोदी ने उनके जल्दी स्वस्थ होने की प्रार्थना की थी. प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पत्र में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को आतंकवाद को लेकर नसीहत भी दी थी.

खत में किया कश्मीर का भी जिक्र
इमरान खान ने खत में लिखा है-हम दक्षिण एशिया में शांति और स्थायित्व के लिए प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने अपने खत में जम्मू-कश्मीर का मुद्दा भी उठाया है. इमरान खान ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भी भारतीय लोगों को शुभकामनाएं दी हैं.बीते महीने दोनों देशों के बीच सीजफायर उल्लंघन पर बनी थी सहमति

गौरतलब है कि बीते फरवरी महीने में भारत और पाकिस्तान के बीच तय किया गया था कि दोनों पक्षों को लाइन ऑफ कंट्रोल और दूसरे सेक्टर्स में सीजफायर करना होगा. यह फैसला 24-25 फरवरी की मध्यरात्रि से अमल में आया. इस फैसले को आश्चर्य की निगाहों से भी देखा जा रहा है. क्योंकि सामान्य तौर पर पाकिस्तान की तरफ से अक्सर सीजफायर का उल्लंघन किया जाता रहा है. दिलचस्प है कि पाकिस्तान सीमा पर सीजफायर का यह निर्णय उसी वक्त आया जब चीन के साथ भी LAC पर हालात सुधरते दिख रहे हैं.





Source link

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles